Main SlideUncategorizedउत्तर प्रदेशउत्तराखंडखबर 50जम्मू कश्मीरट्रेंडिगदिल्ली एनसीआरदेशप्रदेशबिहारबड़ी खबरमध्य प्रदेशविदेशवीडियोसाहित्य

आईटीआई छात्र ने खुद को गोली से उड़ाया, ब्लैकमेलिंग से था परेशान, पिता ने इस पर लगाया आरोप

लखनऊ के गाजीपुर इलाके में द्वारिकापुरी कॉलोनी निवासी अभिषेक सिंह (19) ने सोमवार दोपहर 12 बजे कमरे में बंद कर पिता की लाइसेंसी राइफल से खुद को गोली से उड़ा लिया। पिता की सूचना पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर कमरे से शव बाहर निकाला और पोस्टमार्टम को भिजवाया। पिता की तहरीर पर पुलिस ने युवक की महिला मित्र पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज कर लिया है।
प्रभारी निरीक्षक गाजीपुर बृजेश कुमार सिंह के मुताबिक, मूलरूप से प्रयागराज निवासी झल्लर सिंह सीएमएस में चतुर्थश्रेणी कर्मचारी हैं। परिवार में पत्नी व दो बेटे हैं। सोमवार को वह स्कूल गए थे। घर पर पत्नी व बेटे थे। बेटा अभिषेक हाईस्कूल के बाद आईटीआई की पढ़ाई कर रहा था। दोपहर करीब 12 बजे वह कमरे में गया और अंदर से बंद कर लिया। कुछ देर बाद गोली चलने की आवाज आई तो मां व भाई कमरे की तरफ भागे। खटखटाने पर भी जवाब नहीं मिला तो अभिषेक की मां ने झल्लर सिंह को सूचना दी। उनके घर पहुंचने के बाद पुलिस को सूचना दी गई।

प्रभारी निरीक्षक बृजेश कुमार सिंह के मुताबिक, पुलिस ने दरवाजा तोड़ा तो अभिषेक का शव बिस्तर पर खून से लथपथ पड़ा था। फोरेंसिक टीम को बुलाकर साक्ष्य जुटाए गए। पुलिस के मुताबिक, अभिषेक ने गोली जबड़े के निचले हिस्से में मारी थी। जो सिर को भेदती हुई बाहर निकल गई थी। दीवारों पर भी खून के छींटे पड़े थे।

आरोप: ब्लैकमेलिंग से था परेशान

प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक, पिता ने अभिषेक की महिला मित्र पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है। झल्लर सिंह के मुताबिक, अभिषेक को महिला मित्र ब्लैक मेल कर रही थी। इसे लेकर वह काफी परेशान था।

अभिषेक के मोबाइल की छानबीन में महिला मित्र के नंबर पर कई बार कॉल करने की बात सामने आई है। कुछ संदिग्ध मैसेज भी हैं। महिला मित्र से पूछताछ की जाएगी। हालांकि, परिवारीजन यह नहीं बता सके कि महिला मित्र अभिषेक को किस तरह ब्लैकमेल करती थी।

Tags

Related Articles

Live TV
Close