Main Slideदिल्ली एनसीआरप्रदेश

कपिल मिश्रा ने फिर बढ़ाई अरविंद केजरीवाल की मुश्किल…

दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गैरमौजूदगी का मुद्दा गरमा गया है। दिल्ली सरकार में पूर्व मंत्री और आम आदमी पार्टी (AAP) के बागी विधायक कपिल मिश्रा इस मुद्दे को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट पहुंच गए हैं। वहीं, कोर्ट ने विधायक कपिल मिश्रा को इस विषय को लेकर याचिका दायर करने की अनुमति दे दी है। माना जा रहा है कि कोर्ट इस पर मंगलवार को सुनवाई कर सकता है।

Loading...

कपिल मिश्रा ने सीएम अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाया है कि उनकी उपस्थिति दिल्ली विधानसभा में 10 फीसद से भी कम है। इस बात की जानकारी कपिल मिश्रा ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके दी थी। वहीं, कपिल के मुताबिक, दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने के मुद्दे पर केजरीवाल दिल्ली की जनता को गुमराह कर रहे हैं। वह मात्र दो घंटे ही विधानसभा की कार्यवाही के दौरान उपस्थित रहे। यह दिल्ली के लोगों का अपमान है, जिन्होंने अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी को विधानसभा में पहुंचाया है। उन्होंने कहा कि उपस्थिति के मानदंडों के आधार पर वेतनमान भी काटा जाना चाहिए।

AAP के बागी विधायक ने कोर्ट से मांग की है कि अरविंद केजरीवाल को निर्देश दिया जाए कि वे दिल्ली विधानसभा की कार्यवाही के दौरान मौजूद रहें। इतना ही नहीं, कपिल ने यह भी कहा कि उपराज्यपाल और दिल्ली विस अध्यक्ष भी सुनिश्चित करें कि सीएम की उपस्थिति दर्ज हो। 

गौरतलब है कि कपिल मिश्रा ने सीएम अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाया है कि वे विधानसभा में नहीं आते हैं, उनकी उपस्थिति 10 फीसद से भी कम है।  

इससे पहले कपिल मिश्रा ने अपने ट्विटर हैंडल से एक बैनर भी पोस्ट किया था। जिस पर लिखा है- ‘गुमशुदा केजरीवाल सदन में आओ।’

यहां पर बता दें कि कपिल मिश्रा एक समय में अरविंद केजरीवाल के काफी करीब थे। वह केजरीवाल की कैबिनेट में भी शामिल थे। बाद में उन्हें मंत्री पद से हटा दिया गया था।

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close