Main Slideदेश

कश्मीरी अलगाववादियों से भी जुड़े हैं नक्सलियों के तार, पुणे पुलिस का दावा

भीमा-कोरगांव हिंसा मामले पर जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ रही है, हर रोज कोई न कोई नया खुलासा हो रहा है। अब नक्सलियों और कश्मीरी अलगाववादियों के संपर्क के भी तार एक-दूसरे से जुड़ रहे हैं। दरअसल, महाराष्ट्र पुलिस ने दो दिन पहले कई शहरों में हुई छापेमारी के दौरान एक पत्र मिलने का दावा किया है। पुलिस ने आरोप लगाया है कि गिरफ्तार किए गए पांच वामपंथी विचारक में से एक गौतम नवलखा कश्मीरी अलगाववादियों के संपर्क में थे।

Loading...

कामरेड सुधा का कामरेड प्रकाश को पत्र

बताया जा रहा है कि हिंदी में लिखा यह पत्र कामरेड सुधा ने किसी कामरेड प्रकाश को लिखा था। इसमें इंटीरियर (दूरदराज के क्षेत्र) इलाकों में काम कर रहे कामरेडों को वित्तीय सहायता देने की भी बात की गई है।

28 अगस्त को नौ स्थानों पर हुई छापेमारी 

मंगलवार (28 अगस्त) को पुणे पुलिस ने विभिन्न राज्यों में नौ स्थानों पर छापामारी की। इस दौरान गिरफ्तार पांच वामपंथी विचारकों में नवलखा भी शामिल थे। उन्हें नक्सलियों के साथ संपर्क के कारण गिरफ्तार किया गया। उनके अलावा प्रसिद्ध तेलुगु कवि वरवर राव (हैदराबाद), वेरनान गोंजाल्विस व अरुण फरेरा (मुंबई), ट्रेड यूनियनिस्ट सुधा भारद्वाज (फरीदाबाद) को भी गिरफ्तार किया गया था।

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close