Main Slideदेश

वायु सेना राफेल विमान और एस-400 मिसाइलों से होगी मजबूत : वायु सेना प्रमुख

एयर एयर फोर्स चीफ बीरेंद्र सिंह धनोआ ने दिल्ली में कहा कि भारत सरकार वायु सेना को कम संख्याबल समस्या को खत्म करने के लिए और वायुसेना को और मजबूत करने के लिए राफेल विमान और एस-400 मिसाइल उपलब्ध कराई हैं। 

Loading...

वायुसेना चीफ ने कहा कि हमारी सबसे बड़ी समस्या कम संख्याबल होना है। कहा कि 42 स्वीकृत स्क्वार्डन होने के बाद भी हमारे पास केवल 31 स्कवार्डन हैं। उन्होंने कहा कि अगर हमारे पास 42 स्क्वार्डन भी होते फिर भी हम अपने दो क्षेत्रीय प्रतिद्वंदियों की सम्मिलित संख्या से कम ही रहेंगे। उन्होंने कहा कि बीते समय में चीन ने खुद को काफी विकसित कर लिया है। उन्होंने कहा कि चीन के पास करीब 1700 फाइटर एयरक्राफ्ट हैं, इनमें भी करीब 700 चौथी जेनरेशन के हैं। बीते दस साल में चीन ने ट्रांसपोर्ट व्यवस्था को बेहतर किया है। 

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close