Main Slideदेशबड़ी खबरविदेश

महाबलीपुरम: जिनपिंग से आज मिलेंगे पीएम मोदी, किया चीनी भाषा में ट्वीट

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग दो दिन की यात्रा पर शुक्रवार को भारत पहुंचने वाले हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तमिलनाडु के तटीय शहर महाबलीपुरम में आयोजित होने वाले दूसरे द्विपक्षीय अनौपचारिक शिखर सम्मेलन में चीनी राष्ट्रपति के साथ मुलाकात करेंगे। दोनों नेता इससे पहले 14 बार मिल चुके हैं। दोनों नेताओं के बीच यह दूसरी अनौपचारिक मुलाकात होगी। इससे पहले साल 2018 में पीएम मोदी ने वुहान में चीन के राष्ट्रपति से मुलाकात की थी।

Loading...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ अपनी दोस्ती को और आगे ले जाने के लिए सबसे पहले अर्जुन पेनेंस जाएंगे। अर्जुन पेनेंस के बारे में बताया जाता है कि यहां एक विशाल शिलापट्टी है, जिसमें कई तरह की आकृति बनी हुई हैं। इस जगह के बारे में मान्यता है कि ये तस्वीरें गंगा को धरती पर लाने की दास्तां बताती हैं। इसी के साथ कुछ लोग ये भी मानते हैं कि भगवान शिव से पशुपतास्त्र पाने के लिए अर्जुन ने यहीं पर एक पैर पर खड़े होकर घनघोर तपस्या की थी।

pm meets jinping

अर्जुन पेनेंस की इस विशाल शिलापट्टी को देखने के बाद चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पंचरथ पर जाएंगे। यहां पर पांच अधूरे रथ बने हैं, जिनके बारे में मान्यता है कि ये सभी रथ पांचों पांडवों के हैं। इसके बाद दोनों ही देशों के नेता समुद्र के किनारे बने तट मंदिर जाएंगे। इसी मंदिर के पास सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया है। इस कार्यक्रम में चीनी राष्ट्रपति दक्षिण भारत के नृत्य संगीत और परंपरा से रूबरू होंगे।

उन्होंने कहा कि ऐसे साक्ष्य और अन्य पुरातात्विक सबूतों से यह निष्कर्ष निकाला जा सकता है कि वर्तमान ममलापुरम और कांचीपुरम जिले के तटीय क्षेत्रों समेत इन क्षेत्रों का चीन के साथ संबंध था। उन्होंने कहा कि उस काल के चीनी सिक्के भी तमिलनाडु में मिले हैं। उनसे पता चलता है कि इन क्षेत्रों का चीन के साथ प्राचीन व्यापारिक संबंध था।

Loading...
loading...
Tags

Related Articles

Live TV
Close