चीन में तूफान मांगखुत से मची तबाही, चार लोगों की मौत…

चीन में तूफान मांगखुत से मची तबाही, चार लोगों की मौत…

 साल का सबसे शक्तिशाली उष्णकटिबंधीय तूफान ‘मांगखुत’ चीन की धरती पर दस्तक दे चुका है. गुआंगदोंग प्रांत की ओर तेजी से बढ़ता तूफान अब तक कम से कम चार लोगों की जान ले चुका है. फिलीपींंस से लेकर हांगकांग में तबाही मचाने के बाद देश के दक्षिणी क्षेत्र में इस तूफान के चलते 31.1 लाख लोगों को क्षेत्र से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है.

 

प्रांतीय मौसम विज्ञान केन्द्र के अनुसार 162 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाला तूफान ‘मांगखुत’ रविवार शाम पांच बजे गुआंगदोंग प्रांत में जियांगमेन शहर से टकराया. गुआंगदोंग के आपदा राहत अधिकारियों ने बताया कि प्रांत की राजधानी गुआंगझोउ में तूफान के चलते गिरे पेड़ों की चपेट में आने से तीन लोगों की मौत हो गई.  दोंगगुआन शहर में एक व्यक्ति की मौत निर्माणाधीन सामग्री ढहने से हुई.

सरकारी समाचार एजेंसी ‘शिन्हुआ’ की सोमवार की रिपोर्ट के अनुसार 31.1 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया. प्रांत में 49,000 से अधिक मछली पकड़ने की नौकाओं को वापस बंदरगाह बुलाया गया है. तूफान के मद्देनजर 29,000 से अधिक निर्माणाधीन स्थलों पर कार्य रोक दिया गया है और 640 पर्यटन स्थलों को बंद कर दिया गया है.

 

गुआंगदोंग और हैनान प्रांतों में गुआंगझोउ एवं शेनझेन हवाईअड्डे तथा सभी सभी हाई-स्पीड ट्रेनें एवं कुछ सामान्य गति वाली रेल सेवाएं स्थगित हैं. रिपोर्ट के अनुसार तूफान अब भी समूचे दक्षिण चीन के तट और गुआंगदोंग, गुआंगशी एवं हैनान प्रांतों की ओर बढ़ रहा है तथा मंगलवार से बारिश एवं तेज हवाएं चलने की आशंका है.

इस बीच एएफपी की खबर के अनुसार हांगकांग में तूफान मांगखुत से मची भारी तबाही के बाद अब व्यापक सफाई अभियान शुरू किया गया है. जगह-जगह गिरे पेड़ एवं बाढ़ से मची तबाही के कारण फिलीपीन में कई लोगों की मौत हुई है. फिलीपींंस  में मरने वालों की संख्या बढ़कर 65 हो गयी है. रातभर बचावकर्मियों ने पर्वतीय शहर इतोगोन में भारी भूस्खलन की चपेट में आकर मारे गये लोगों के शवों को निकाला. फिलीपींस का मुख्य लुजोन द्वीप तूफान एवं बारिश से बुरी तरह प्रभावित हुआ.

भूस्खलन के कारण शहर में एक आपत आश्रय स्थल भी जमींदोज हो गया, जहां अल्पसंख्यक एवं उनके परिवार रहा करते थे. शहर के महापौर विक्टोरियो पालंगदान ने एएफपी को बताया, हालांकि बचाव कार्य में लोगों ने मलबे से अब तक किसी जीवित व्यक्ति को नहीं निकाला है

You Might Also Like