यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव आज करेंगे दिल्ली के जंतर-मंतर पर साइकिल रैली

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव आज करेंगे दिल्ली के जंतर-मंतर पर साइकिल रैली

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव आज दिल्ली के जंतर-मंतर पर साइकिल रैली के जरिए लोकसभा चुनाव 2019 के प्रचार अभियान की शुरूआत करेंगे. यूपी के अलग अलग हिस्सों से समाजवादी पार्टी की साइकिल यात्रा दिल्ली पहुंचेगी और जंतर-मंतर पर यूपी से चली साइकिल यात्रा का समापन होगा. पिछले 2 महीने से यूपी में समाजवादी पार्टी साइकिल यात्रा निकाल रही है और इस साइकिल यात्रा के माध्यम से यूपी की योगी सरकार और केन्द्र की मोदी सरकार के खिलाफ समाजवादी पार्टी ताल ठोक रही है. खुद अखिलेश यादव भी यूपी के कई जगहों पर साइकिल रैली में शामिल हुए हैं.

समाजवादी पार्टी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, जंतर-मंतर से अखिलेश यादव लोकसभा चुनाव प्रचार की शुरूआत करेंगे. इस रैली में अखिलेश यादव केन्द्र और यूपी सरकार की नाकामियों को गिनाते नज़र आएंगे. वहीं इस रैली में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को चुनाव से पहले बीजेपी से निपटने का टिप्स भी अखिलेश देंगे.

समाजवादी पार्टी सांसद धर्मेन्द्र यादव ने अखिलेश की साइकिल रैली पर Zee News से बातचीत में कहा कि “यूपी और केन्द्र सरकार दलित, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों की विरोधी है और जनता के बीच साइकिल रैली के जरिए हमने ये सरकार का ये चेहरा उजागर करने की कोशिश की है. आज देश का युवा रोज़गार मांग रहा है और पीएम पकौड़ा बेचने की सलाह देते हैं.जातीय जनगणना की मांग समाजवादी पार्टी करती है और सरकार किसानों के हित में काम नहीं कर रही है. अखिलेश यादव की इस साइकिल रैली से सपा 2019 के चुनावी मोड में आ जाएगी”. 

आपको बता दें सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव शनिवार को ही दिल्ली पहुंच गए और सबसे पहले अपने पिता व सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव से मिलने उनके आवास पर पहुंचे. साइकिल रैली से पहले अखिलेश और मुलायम की ये मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है, क्योंकि शिवपाल यादव के सेक्यूलर मोर्चा बनाए जाने के बाद मुलायम सिंह यादव की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण हो जाती है. सेक्युलर मोर्चे पर मुलायम सिंह यादव ने अभी तक अपनी चुप्पी नहीं तोड़ी है. अखिलेश यादव साइकिल रैली के लिए मुलायम का आशीर्वाद लेने पहुंचे और लगभग 1 घंटे तक पिता पुत्र के बीच गुफ्तगू होती रही.

वहीं, समाजवादी पार्टी के मीडिया सलाहकार आशीष यादव ने Zee News से बातचीत में कहा कि “दिल्ली पुलिस ने अखिलेश यादव को प्रगति मैदान से जंतर मंतर तक साइकिल चलाने का अनुमति नहीं दी, अखिलेश जी दिल्ली में साइकिल चलाना चाहते थे. लेकिन सरकार साइकिल को रोकने की चाहे जितनी कोशिश कर लेकिन साइकिल चलती जाएगी और आगे बढ़ती जाएगी” 

कुल मिलाकर अब ये देखना बेहद दिलचस्प होगा कि क्या इस साइकिल रैली के बाद अखिलेश और मायावती की बातचीत और आगे बढ़ती है? क्योंकि इस वक्त सभी की निगाहें यूपी में सपा-बसपा के प्रस्तावित गठबंधन पर है. 

You Might Also Like