जानिए हवाईअड्डों के नाम बदलने का गेम

जानिए हवाईअड्डों के नाम बदलने का गेम

देश के प्रमुख हवाईअड्डों के नाम जानी-मानी हस्तियों के नाम पर रखे जाते रहे हैं. जैसे मुंबई में छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट और दिल्ली में इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट. 2017 के शुरू में ऐसी रिपोर्ट आई थी कि सरकार हवाईअड्डों के नामों को लेकर ऐसे प्रस्ताव पर विचार कर रही है कि मौजूदा हवाईअड्डों और भविष्य में बनने वाले ग्रीनफील्ड हवाईअड्डों के नाम शहरों के नाम पर ही रखे जाएंगे, शख्सियतों के नाम पर नहीं.

जिन 6 एयरपोर्ट्स के नाम बदले गए, इन 5 शख्सियतों के नाम पर रखे गए

इसके पीछे कारण बताया गया कि यात्रियों और विदेशी पर्यटकों को हवाईअड्डों के नामों को लेकर असुविधा का सामना करना पड़ता है, क्योंकि वो उन भारतीय शख्सियतों से वाकिफ नहीं होते जिन पर हवाईअड्डों का नाम रखा गया.  केंद्रीय नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा, ‘ये मामला जांच के तहत है. हम देख रहे हैं कि किस तरह इस मुद्दे से अच्छी तरह निपटा जा सके’.

शहरों पर ही हवाईअड्डों के नाम रखे जाने वाले प्रस्ताव की जो भाषा थी वो तार्किक और प्रगतिशील थी. 3 मई 2016 को सरकार ने राज्यसभा को बताया, ‘यात्री और खासतौर पर विदेशी पर्यटक इलाके के स्थानीय इतिहास के बारे में ज्यादा नहीं जानते, इसलिए उन्हें होने वाली असुविधा को देखते हुए ऐसा नजरिया सामने आया है कि हवाईअड्डों का नाम उसी शहर के नाम पर रखा जाए, जहां वो स्थित हैं या ऑपरेट कर रहे हैं. हवाईअड्डों के टर्मिनलों के नाम जाने माने लोगों पर रखे जा सकते हैं’.

लेकिन इस आदर्शवादी प्रस्ताव पर चलते हुए क्या सरकार नीति बना सकी? पिछले 10 साल में कितने हवाईअड्डों के नाम बदले गए?  मौजूदा सरकार के पास अभी हवाईअड्डों के नाम बदलने के लिए कितने प्रस्ताव विचाराधीन हैं?  हवाईअड्डों के नाम बदले जाने की क्या प्रक्रिया है? इन्हीं सवालों के साथ इंडिया टुडे ने आरटीआई एक्ट के तहत नागरिक उड्डयन मंत्रालय से जानकारी मांगी.

हमें जो जानकारी मिली वो ये है-

हवाईअड्डे का नाम बदलने के लिए राज्य विधानसभा में पहले प्रस्ताव पास होना चाहिए. फिर ये केंद्रीय कैबिनेट के पास जाता है और अंतत:  इसे भारत के गजट में अधिसूचित किया जाता है.

6 हवाई अड्डों में से 4 नाम UPA सरकार और 2 नाम NDA सरकार ने बदले

बीते 10 साल में 6 हवाई अड्डों के नाम बदले गए हैं. इनमें से 5 के नाम शख्सियतों के नामों पर रखे गए हैं. जहां तक छठे हवाईअड्डे का सवाल है तो सरकार ने छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट मुंबई के नाम में शिवाजी के बाद ‘महाराज’ जोड़ने का फैसला किया. हवाईअड्डों के नामों में इन छह बदलावों में से दो बदलाव मोदी सरकार ने किए. बाकी चार बदलाव पूर्ववर्ती मनमोहन सिंह सरकार ने किए थे.

क्रमांक एयरपोर्ट का पुराना नाम   एयरपोर्ट का मौजूदा नाम   बदलाव का वर्ष
 1  लखनऊ एयरपोर्ट चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट, लखनऊ  2008
 2 राजासांसी इंटरनेशनल एयरपोर्ट, अमृतसर श्री गुरु राम दास जी इंटरनेशनल एयरपोर्ट, अमृतसर  2010
 3 माना एयरपोर्ट, रायपुर स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट, रायपुर   2012
 4 बेंगलरु इंटरनेशनल एयरपोर्ट, बेंगलुरु केम्पेगौड़ा इंटरनेशनल एयरपोर्ट, बेंगलुरु  2013
 5 अगरतला एयरपोर्ट, त्रिपुरा महाराजा बीर बिक्रम एयरपोर्ट, अगरतला  2018
 6 छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट, मुंबई छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट, मुंबई  2018

 12 हवाई अड्डों के नाम बदलने के प्रस्ताव विचाराधीन

केंद्रीय कैबिनेट के पास फिलहाल राज्य सरकारों से हवाईअड्डों के नामों के बदलाव के लिए 12 प्रस्ताव विचाराधीन हैं. 2016 में राज्यसभा में जो सरकार ने कहा था, उसके ठीक उलट इन 12 प्रस्तावों में से 11 हवाईअड्डों के नाम शख्सियतों के नाम पर रखने की मांग है. सबसे ज्यादा पेचीदगी चंडीगढ़ हवाईअड्डे का नाम बदलने को लेकर है. इस हवाईअड्डे का 24.5 फीसदी स्वामित्व पंजाब सरकार के पास और 24.5 फीसदी हरियाणा सरकार के पास है. बाकी एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पास है. पंजाब सरकार ने चंडीगढ़ हवाईअड्डे का नाम बदलकर ‘शहीद-ए-आजम सरदार भगत सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट, मोहाली’ रखने का प्रस्ताव दिया है. वहीं हरियाणा सरकार चाहती है कि इस हवाईअड्डे का नाम ‘शहीद भगत सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट, चंडीगढ़’ रखा जाए.

क्रमांक एयरपोर्ट का मौजूदा नाम प्रस्तावित नाम
 1 विजयवाड़ा एयरपोर्ट नंदमूरी तारक रामाराव एयरपोर्ट, अमरावती
 2 तिरुपति एयरपोर्ट श्री वेंकेटेश्वरा एयरपोर्ट, तिरुपति
 3 सिविल एयर टर्मिनल, आगरा एयरपोर्ट पंडित दीनदयाल उपाध्याय सिविल टर्मिनल, आगरा
 4 सिविल एयर टर्मिनल, गोरखपुर एयरपोर्ट संत महायोगी गोरखनाथ जी महाराज सिविल टर्मनिल, गोरखपुर
 5 सिविल एयर टर्मिनल, बरेली एयरपोर्ट नाथ नागरी सिविल टर्मिनल, बरेली
 6 सिविल एयर टर्मिनल, कानपुर (चकेरी) एयरपोर्ट श्री गणेश शंकर विद्यार्थी सिविल टर्मिनल, कानपुर
 7 सिविल एयर टर्मिनल, आदमपुर एयरपोर्ट श्री गुरु रविदास जी सिविल टर्मिनल, आदमपुर
 8 शिरडी एयरपोर्ट श्री साई बाबा इंटरनेशनल एयरपोर्ट, शिरडी
 9 कोल्हापुर एयरपोर्ट छत्रपति राजाराम महाराज एयरपोर्ट, कोल्हापुर
 10 जबलपुर एयरपोर्ट वीरांगना रानी दुर्गावती एयरपोर्ट, जबलपुर
 11 इम्फाल इंटरनेशनल एयरपोर्ट बीर तिकेंद्रजीत इंटरनेशनल एयरपोर्ट, इम्फाल
 12 सिविल एयर टर्मिनल कॉम्पलेक्स चंडीगढ़ एयरपोर्ट पंजाब सरकार का प्रस्तावित नाम : ‘शहीद ए आजम सरदार भगत सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट, मोहाली’हरियाणा सरकार का प्रस्तावित नाम: ‘शहीद भगत सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट, चंडीगढ़’

You Might Also Like