हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन बाजार में रही  उतार-चढ़ाव की स्थिति

हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन बाजार में रही उतार-चढ़ाव की स्थिति

हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन बाजार में उतार-चढ़ाव की स्थिति रही और निवेशकों को कोई राहत नहीं मिली। शुक्रवार सुबह बाजार की शुरुआत उतार-चढ़ाव के साथ हुई, जिसका असर पूरे कारोबारी सेशन पर दिखा।

शुक्रवार सुबह सेंसेक्स करीब 130 अंकों की मजबूत बढ़त के साथ 36,452.74 पर जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों वाला इंडेक्स निफ्टी 30.55 अंकों की बढ़त के साथ 11,008.10 पर खुला।

हालांकि थोड़े ही देर में बाजार में बिकवाली हावी होती दिखी और सेंसेक्स ने सुबह 9.39 बजे 65.38 अंकों का गोता लगा गया। वहीं निफ्टी 32.90 अंकों की कमजोरी के साथ 11,000 के स्तर के नीचे चला गया।

यस बैंक के शेयरों में लगातार हो रही बिकवाली ने बाजार की चाल को प्रभावित किया। बैंकिंग और स्मॉल कैप इंडेक्स में हुई बिकवाली के कारण सेंसेक्स 97.03 अंक टूटकर 36,212.50 पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 11,000 के सपोर्ट को तोड़ते हुए 10,930.45 पर बंद हुआ। निफ्टी में 17 शेयर हरे निशान में जबकि 32 शेयर लाल निशान में बंद हुए।

सेसेंक्स में सबसे ज्यादा मजबूती एचडीएफसी, एसबीआई, विप्रो, रिलायंस और इंफोसिस के शेयरों में दिखी वहीं यस बैंक के काउंटर पर दबाव रहा।

आईएलएंडएफएस संकट के बाद फाइनेंस शेयरों पर दबाव की स्थिति बनी हुई है। हालांकि शुक्रवार को इस काउंटर पर थोड़ी रिकवरी नजर आई। बीएसई फाइनेंस 0.01 फीसद की मामूली गिरावट के साथ 5474 पर ट्रेड कर रहा है। इस इंडेक्स में कैनफिन होम्स, इंडियन बैंक, आईआईएफएल और क्रिसिल के शेयरों में तेजी नजर आ रही है वहीं एमके, रैलिगेयर, बीएफइनवेस्ट और यस बैंक लाल निशान में बंद हुए।

18 फीसद तक टूटा यस बैंक

शुक्रवार के कारोबारी सेशंस में यस बैंक का शेयर 18.23 फीसद तक टूट गया। बैंक ने बताया कि 30 जून 2018 तक उसका नेट और ग्रॉस एनपीए 0.59 और 1.3 फीसद है। बैंक ने कहा, ‘एनपीए के आंकड़ें अन्य भारतीय बैंकों के मुकाबले बेहद कम हैं।’

बीएसई में बैंक का शेयर 9.72 फीसद की कमजोरी के साथ 183.45 रुपये पर बंद हुआ, जो 52 हफ्तों का न्यूनतम स्तर है।

धाराशायी हुआ इंफीबीम का शेयर

शेयर बाजार में जारी उठापटक के बीच इंफीबीम का शेयर 60 फीसद तक टूट गया है। कंपनी के एजीएम (वार्षिक महाधिवेशन) से ठीक पहले शेयर में आई इस गिरावट के कारणों के बारे में अभी तक स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है।

इंफीबीम एवेन्यूज लिमिटेड का एजीएम 29 सितंबर को प्रस्तावित है।

शुक्रवार को बीएसई में कंपनी का शेयर 68 फीसद से अधिक का गोता लगाते हुए 69.15 रुपये के निचले स्तर पर जा पहुंचा, जो अब तक का सबसे न्यूनतम स्तर है।

कंपनी की तरफ से सफाई दिए जाने के बावजूद भी शेयरों में कोई रिकवरी नहीं हुई। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) को दी गई जानकारी में इंफीबीम ने कहा कि कंपनी के नतीजों पर असर डालने वाली सभी अहम जानकारियां समय पर दी जा चुकी है। कंपनी ने कहा, ‘उसने स्टॉक एक्सचेंज की तरफ से मांगी गई सभी जानकारी समय पर दी है। ऐसी कोई जानकारी लंबित नहीं है, जिसका असर शेयरों की कीमतों पर हो सकता है।’

अहमदाबाद की यह कंपनी सॉफ्टवेयर डिवेलपमेंट सर्विसेज, मेंटनेंस, वेब डिवेलपमेंट, ई-कॉमर्स और अन्य सेवाओं को मुहैया कराती है। कंपनी मार्च 2016 में बाजार में लिस्ट हुई थी

You Might Also Like