सहारनपुर पहुंचे सीएम योगी, संगठन पदाधिकारियों के साथ बैठक शुरू

सहारनपुर पहुंचे सीएम योगी, संगठन पदाधिकारियों के साथ बैठक शुरू

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ठीक 11 बजे सहारनपुर के अंबाला रोड स्‍थित पीएनटी सेंटर पहुंच गए हैं। वह यहां चार लोकसभा क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों समेत संगठन के 180 पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। दोपहर बाद गन्‍ना किसानों द्वारा आयोजित सम्‍मान समारोह में शिरकत करेंगे। 
लोकसभा चुनाव की तैयारी
लोकसभा चुनाव की तैयारी के मद्देनजर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को सहारनपुर पहुंच गए हैं। अंबाला रोड स्थित पीएनटी सेंटर में दो सत्र में सहारनपुर, कैराना, मुजफ्फरनगर और बिजनौर लोकसभा क्षेत्र की संचालन समिति, संगठन के नेताओं व जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे। कार्यक्रम की समाप्ति के बाद वह 3.30 बजे अंबाला रोड स्थित ज्यूरी रिसोर्ट में गन्ना किसानों द्वारा आयोजित अभिनंदन समारोह में हिस्सा लेंगे।
बनेगी चुनाव जीतने की रणनीति
कैराना लोकसभा उपचुनाव में हार के बाद से ही भाजपा की निगाहें पउप्र पर टिकी हैं। मुख्यमंत्री स्वयं पश्चिम के कई दौरे कर चुके हैं। 11 सितंबर को वह दिल्ली-सहारनपुर-शाकंभरी हाईवे का शिलान्यास करने आए थे। 20 दिन के अंदर उनका दूसरा दौरा बेहद अहम माना जा रहा है। 11 सितंबर को शाकंभरी देवी तक फोरलेन निर्माण की घोषणा की गई थी। चीनी मिलों के पेराई सत्र से पहले मुख्यमंत्री का किसानों द्वारा अभिनंदन इसी का इशारा है। इस बात की भी संभावना है कि सहारनपुर में ही मुख्यमंत्री गन्ना मूल्य की घोषणा कर दें।
कैराना छोड़कर तीन सीटों पर भाजपा 
भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष अश्विनी त्यागी ने पुष्टि की है कि मुख्यमंत्री चार लोकसभा क्षेत्रों की संचालन समिति, जनप्रतिनिधि व संगठन के नेताओं के साथ दो सत्रों में चुनाव जीत का पाठ पढ़ाएंगे। संगठन का ढांचा मजबूत करने पर भी मंथन होगा। केंद्र और प्रदेश सरकार की जनहित की योजनाओं की जानकारी आम लोगों तक पहुंचाना और उन्हें लोकसभा चुनाव में मतदान केंद्र तक लाना भी रणनीति का हिस्सा होगी। आज की बैठक में मुख्यमंत्री का फोकस सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, कैराना व बिजनौर सीटों पर है। कैराना छोड़ दें तो फिलहाल तीनों सीटों पर भाजपा काबिज है।
अभिनंदन समारोह में शामिल होंगे किसान
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का अभिनंदन समारोह अंबाला रोड स्थित ज्यूरी रिसोर्ट में रखा गया है। इस कार्यक्रम में आम किसान उपस्थिति न होकर उन्हीं किसानों को कार्यक्रम में जाने की अनुमति दी जाएगी, जिनकी सूची चीनी मिलों व गन्ना विभाग द्वारा दी गई है। कार्यक्रम में शामिल होने वाले ऐसे किसानों की संख्या 600 रखी गई है। इन किसानों की पहचान के लिए जिला गन्ना अधिकारी स्वयं ज्यूरी रिसोर्ट के गेट पर मौजूद रहेंगे।

You Might Also Like