31 अक्टूबर के बाद एटीएम से एक दिन में महज निकाल सकेंगे 20 हजार रुपए

31 अक्टूबर के बाद एटीएम से एक दिन में महज निकाल सकेंगे 20 हजार रुपए

सार्वजनिक क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने एटीएम कैश निकासी की सीमा को आधा करने का फैसला किया है। ग्राहक 31 अक्टूबर के बाद एटीएम से एक दिन में महज 20 हजार रुपए ही निकाल सकेंगे। वर्तमान में यह सीमा 40 हजार रुपए है। बताते चलें कि एटीएम में स्किमिंग की घटनाओं के फिर से सामने आने के बाद बैंक ने धोखाधड़ी के मामलों में काबू करने के लिए यह कदम उठाया है।

हाल ही में पुलिस ने रोमानिया के दो नागरिकों को स्किमिंग के रैकेट में लिप्त होने पर गिरफ्तार किया है। बताते चलें कि स्किमर नाम की एक डिवाइस को अपराधी एटीएम मशीन में लगा देते हैं, जो ग्राहकों के एटीएम कार्ड का डाटा रीड कर लेता है। इसके बाद अपराधी उस डाटा का क्लोन बना लेते हैं और ग्राहक की जानकरी के बिना उसके खाते से पैसे निकाल लेते हैं।

जब तक ग्राहक को खाते से पैसे निकलने की जानकारी मिलती है, तब तक काफी देर हो चुकी होती है। इस तरह के अपराधों पर लगाम कसने के लिए एसबीआई ने एटीएम से एक दिन में निकाले जा सकने वाले कैश की सीमा को कम कर दिया है।

बैंक ने ब्रान्चों में भेजे आदेश में कहा है कि एटीएम ट्रांजैक्शन में धोखाधड़ी की बढ़ती शिकायतों को देखते हुए और डिजिटल-कैशलेस ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से कैश निकासी सीमा को घटाने का फैसला किया गया है।सरकार द्वारा डिजिटल ट्रांजैक्शन पर जोर दिए जाने के बावजूद कैश की डिमांड अधिक बनी हुई है। कुछ अनुमानों के मुताबिक बाजार में कैश फ्लो नोटबंदी से पहले के स्तर तक पहुंच गया है।

इस मामले में एसबीआई के मैनेजिंग डायरेक्टर पीके गुप्ता ने कहा कि हमारे विश्लेषण से पता चलता है कि एटीएम से अधिकतर छोटी राशि की निकासी होती है। 20 हजार रुपए कई ग्राहकों के लिए काफी है। हम छोटी निकासी पर फ्रॉड में कमी को लेकर भी प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ज्यादा विदड्रॉल लिमिट चाहने वाले कस्टमर ऊंचे वैरिएंट वाला कार्ड ले सकते हैं।

You Might Also Like