आरोपी पूर्व सिपाही प्रशांत चौधरी के फेसबुक पर उठी ये मांग

आरोपी पूर्व सिपाही प्रशांत चौधरी के फेसबुक पर उठी ये मांग

शुक्रवार की रात एपल कंपनी के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस घटना में यूपी पुलिस के दो पूर्व सिपाही प्रशांत चौधरी और संदीप राणा को आरोपी बनाया गया है. घटना पर कार्रवाई करते हुए यूपी पुलिस ने इन दोनों सिपाहियों को बर्खास्त कर दिया है. इस घटना के बाद आम लोग अपना गुस्सा अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर निकाल ही रहे हैं. इसके साथ-साथ लोग आरोपी पूर्व सिपाही प्रशांत चौधरी के फेसबुक अकाउंट पर भी जाकर अपना भड़ास निकाल रहे हैं.

प्रशांत चौधरी के फेसबुक अकाउंट पर उसके द्वारा पहले जो तस्वीरें पोस्ट की गई है, उसके कमेंट बॉक्स में जाकर विवेक के हत्या से गुस्साए लोग उसे बुरा-भला कह रहे हैं. कोई यूजर कह रहा है कि यह एक हत्यारा है, इसे फांसी होनी चाहिए तो कोई कह रहा है कि 100-50 रूपए वसूली के चक्कर में तुमने एक परिवार का आसरा छीन लिया. भगवान तुझको सबक जरूर देगा. इस तरह कई कमेंट्स आपको प्रशांत चौधरी के फेसबुक अकाउंट के पोस्ट्स पर आपको पढ़ने को मिल जाएंगे.

हालांकि फेसबुक पर प्रशांत चौधरी के समर्थन में भी यूपी पुलिस के कुछ स्टाफ्स द्वारा अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें यह लिखा जा रहा है कि हम अपने भाई प्रशांत चौधरी को 5 करोड़ रुपये देंगे. इन पैसों हम एक अच्छा वकील रखेंगे, जो प्रशांत के केस को अच्छे से लड़ सके. बड़े अधिकारी और बिकाऊ मीडिया इस मामले में बस एक ही पक्ष को देख रहा है. अगर हम अपनी आत्म-सुरक्षा भी नहीं कर सकते है तो फिर यह हथियार हमें क्यों दिया गया है. इसके बाद से यूपी पुलिस के कुछ पुलिसकर्मी अपने इच्छा अनुसार जितना पैसा दे सकते है वो प्रशांत चौधरी के अकाउंट में भेज रहे है और इसका स्क्रीन शार्ट सोशल मीडिया पर शेयर भी रहे हैं. बता दें कि इस पोस्ट के साथ प्रशांत चौधरी की पत्नी का बैंक अकाउंट डिटेल्स भी शेयर किये जा रहे है, जिससे डायरेक्ट लोग उसके अकाउंट में पैसे भेज सके. 

आपको बता दें कि विवेक के हत्या के बाद उनके परिजनों ने यूपी सरकार से 1 करोड़ रुपए आर्थिक सहायता, पुलिस विभाग में एक नौकरी और विवेक के बच्चों की पढ़ाई जिम्मेदारी उठाने की मांग रखी थी. परिजनों का कहना था कि जब तक सरकार उनकी ये मांगे नहीं मान लेती है तब तक वो विवेक का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे. इस पर रविवार को देर शाम यूपी सरकार ने परिजनों से बातचीत कर के उनकी कुछ मांगें मान ली, जिसके तहत विवेक की पत्नी कल्पना को यूपी पुलिस में लोअर पीसीएस रैंक की नौकरी और 25 लाख रुपए दिए जाएंगे. इसके बाद रविवार को विवेक का अंतिम संस्कार कर दिया गया.

You Might Also Like