उत्तराखंड में चलेंगी इलेक्ट्रिक बसें, दून-मसूरी मार्ग पर होगा ट्रायल

उत्तराखंड में चलेंगी इलेक्ट्रिक बसें, दून-मसूरी मार्ग पर होगा ट्रायल

पर्यटन के लिहाज से महत्वपूर्ण मसूरी और नैनीताल में सरकार ने 50 इलेक्ट्रिक बसें चलाने की कसरत तेज कर दी हैं। उत्तराखंड परिवहन निगम (रोडवेज) के अधीन अनुबंधित तौर पर संचालित होने वाली इन बसों में ट्रायल के लिए एक बस दून पहुंच गई है। बताया जा रहा कि गुरुवार से इस बस का मसूरी मार्ग पर ट्रायल किया जाएगा। आपको बता दें कि सरकार ने 25 बसें देहरादून से मसूरी और बाकी 25 हल्द्वानी-नैनीताल के बीच चलाने का फैसला लिया था। पर्यावरण के लिहाज से ये बसें कारगर साबित हो सकती हैं।

बीती एक अगस्त को मुख्य सचिव उत्पल कुमार की अध्यक्षता में परिवहन सुविधाओं में बढ़ोत्तरी को लेकर हुई बैठक में सूबे में रोडवेज के जरिए इलेक्ट्रिक बसें चलाने पर सहमति बनी थी। इसी के तहत रोडवेज की ओर से निजी कंपनियों से प्रस्ताव मांगे गए थे। इनमें तमिलनाडू की एक कंपनी ने एक करोड़ की कीमत की एक बस ट्रायल करने के लिए दून भेज दी है। 

पर्वतीय मार्गों को देखते हुए बस 166 व्हीलबेस की है। यह बस रोडवेज कार्यशाला में पहुंची तो इसके साथ इंजीनियर ने इसके संचालन के बारे में चालकों और परिचालकों को जानकारी दी। इस बारे में रोडवेज महाप्रबंधक दीपक जैन ने बताया कि इलेक्ट्रिक बस की बैटरी आदि बुधवार को चेक की जाएगी व इसके बाद गुरूवार से ट्रायल कराया जाएगा। यह देखा जाएगा कि बस पर्वतीय मार्ग पर लोड ले रही या नहीं।

दून शहर में भी इलेक्ट्रिक सिटी बसें 

मुख्य सचिव उत्पल कुमार ने रोडवेज को दून शहर में इलेक्ट्रिक सिटी बसें संचालित करने रोडमैप तैयार करने को कहा है। इन दिनों स्कूली बच्चों की समस्या को देखते हुए दून शहर में प्रयोग के तौर पर रोडवेज को इलेक्ट्रिक स्कूल बस चलाने के निर्देश भी दिए गए हैं। मुख्य सचिव ने ये आदेश दिए हुए हैं कि छात्रों को मासिक किराए के आधार पर ये बसें शहरों और आसपास के कस्बों में चलाई जाएं। 

You Might Also Like