विवेक तिवारी हत्याकांड पर आज मजिस्ट्रेट के सामने सना खान देंगी अपना बयान

विवेक तिवारी हत्याकांड पर आज मजिस्ट्रेट के सामने सना खान देंगी अपना बयान

एपल के एरिया सेल्स मैनेजर विवेक तिवारी की हत्या में एकमात्र चश्मदीद सना खान का आज लखनऊ में मजिस्ट्रेट के समक्ष अपना बयान देंगी। लखनऊ में सना खान ने फिलहाल अपने को गोमतीनगर के विनय खंड में खुद को कमरे में बंद कर रखा है।
विवेक तिवारी हत्याकांड की चश्मदीद सना खान का आज मजिस्ट्रेट के सामने बयान दर्ज किया जाएगा। मामले की विवेचना कर रहे इंस्पेक्टर महानगर विकास कुमार पांडेय ने बुधवार को मजिस्ट्रेट से बयान दर्ज करने का समय मांगा। उन्हें गुरुवार का समय दिया गया है।

एसआइटी प्रभारी आइजी सुजीत पांडेय के मुताबिक कलम बंद बयान के बाद कई बातें स्पष्ट हो जाएंगी। सीसी कैमरे खंगालने के लिए दो टीमें बनाई गई हैं। एसआइटी ने बुधवार देर शाम बैठक कर कई बिंदुओं पर चर्चा की। सना ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि घटना की रात आरोपित सिपाहियों में से संदीप ने उन्हें लाठी से मारा था। सना खान ने हाथ पर लगी चोट भी एसआइटी को दिखाई थी। सना के इस बयान के बाद अधिकारी हरकत में आ गए और उन्होंने फौरन उन्हें मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा था। मेडिकल रिपोर्ट में सना के चोट की पुष्टि भी हुई है।

एसआइटी ने बुधवार को गोमतीनगर विस्तार और सना के बताए गए उन सभी मार्गो पर लगे सीसी कैमरों की पड़ताल की। एसआइटी इस बारे में पता लगा रही है कि विवेक और सना किस रास्ते घटना स्थल तक पहुंचे थे। छानबीन में पुलिस टीम को घटना स्थल पर लगे एक कैमरे से अहम सुराग मिले हैं। फुटेज में एक कार और बाइक जाते हुए दिखी है। टीम अब इस बारे में पता लगा रही है कि वह कार विवेक की है या किसी और की। सूत्रों का कहना है कि फुटेज में विवेक और आरोपित सिपाहियों की गाड़ी कैद मिली है। हालांकि इस बारे में अधिकारी कुछ भी स्पष्ट नहीं बता रहे हैं।

सना खान ने खुद को कमरे में बंद किया, लड़ेंगी न्याय की लड़ाई

सना खान ने कल कहा कि आखिरी बयान देने तक उन्हें खतरा है, लेकिन विनय सर के कातिलों के खिलाफ आखिरी सांस तक लड़ाई लड़ूंगी। उन्होंने कहा कि पुलिस ने उन्हें सुरक्षा मुहैया कराया है। घर के बाहर दो महिला पुलिसकर्मी मुस्तैद रहती हैं। हालांकि घटना वाली रात में पुलिस के व्यवहार से सना नाराज दिखीं। सना खौफ में हैं और उन्होंने खुद को कमरे में बंद कर लिया है। उन्होंने सुरक्षा की चिंता जताते हुए कहा कि अब सबकुछ पुलिस पर छोड़ दिया है। अब नए सिरे से जिंदगी शुरू करुंगी। उन्होंने बताया कि इस घटना से बेहद सदमा पहुंचा है और इससे उबरने का वह प्रयास कर रही हैं।

पैकफैड को विवेचक ने लिखा पत्र

हत्याकांड की विवेचना कर रहे इंस्पेक्टर महानगर ने पैकफैड ऑफिस में लगे सीसी कैमरों की फुटेज प्राप्त करने के लिए पत्र लिखा है। पैकफैड के अधिकारियों को पत्रचार के माध्यम से विवेचक ने कैमरों की फुटेज उपलब्ध कराए जाने की मांग की है। विवेचक का कहना है कि फुटेज मिलने के बाद उसे फॉरेंसिक लैब जांच के लिए भेजा जाएगा।

सर्विस पिस्टल और कारतूस को एफएसएल भेजा

विवेक तिवारी की हत्या करने वाले सिपाही प्रशांत चौधरी की पिस्टल, घटनास्थल से बरामद खोखा कारतूस और विवेक के शरीर से मिले बुलेट को एफएसएल (विधि विज्ञान प्रयोगशाला) भेज दिया गया है। संबंधित मुकदमे के विवेचक व इंस्पेक्टर महानगर विकास कुमार पांडेय के मुताबिक घटनास्थल से बरामद खोखा कारतूस, विवेक के शरीर में लगी बुलेट और सिपाही प्रशांत से बरामद उसकी सर्विस पिस्टल को बुधवार को एफएसएल भेज दिया गया है। पिस्टल से खोखा कारतूस और विवेक को मारी गई बुलेट का एफएसएल में मिलाना होगा। विवेचक ने बताया कि बयान, साक्ष्य संकलन, जांच रिपोर्ट समेत सभी बिंदुओं को विवेचना में शामिल किया जाएगा।

तफ्तीश में ढिलाई पर सीबीआइ जांच की करेंगे सिफारिश

विवेक के ससुर रमेश चंद्र शुक्ला और साले विष्णु शुक्ला के मुताबिक फिलहाल एसआइटी और पुलिस की जांच से संतुष्ट हैं, लेकिन यह जानने के लिए थोड़ा अभी समय चाहिए कि विवेचक चार्जशीट में किन बिंदुओं को प्रमुखता से शामिल करेंगे। उन्होंने कहा कि एसआइटी और पुलिस जांच में रत्तीभर भी ढिलाई होते ही सीबीआइ जांच की मांग करेंगे। 

You Might Also Like