रिचर्ड ब्रैनसन को पसंद नहीं है ये आदत, ऐसा करने पर टेस्ला कंपनी से भी निकाले गए हैं कर्मचारी

रिचर्ड ब्रैनसन को पसंद नहीं है ये आदत, ऐसा करने पर टेस्ला कंपनी से भी निकाले गए हैं कर्मचारी

जब ट्रैफिक जाम लगा हो तब समय पर ऑफिस पहुंचने के लिए रिचर्ड ब्रैनसन सड़क पर दौड़ लगाने लगते हैं। उन्हें काम के दौरान लेट पहुंचना बिलकुल पसंद नहीं है। अपनी मेहनत से अरबपति बना यह इंसान बहुत मस्तीखोर है और अपने यहां काम करने वालों को भी मस्ती में काम करने की सलाह देता है लेकिन समय पर मीटिंग में पहुंचने के लिए वह मैनहट्टन की सड़कों पर दौड़ लगाने में भी हिचकता नहीं है। उसने यह बातें हालिया अपने ब्लॉग में भी लिखी हैं।

देरी से ऑफिस पहुंचने वाले लोग मस्तमौला ब्रैनसन को बिलकुल पसंद नहीं है। उनका मानना है कि समय की पाबंदी दिखाती है कि आप अपने काम को लेकर कितने गंभीर, व्यवस्थित और दूसरों के समय का आदर करने वाले हैं।

ब्रैनसन लिखते हैं, ‘समय की पाबंदी पर 19वीं सदी के प्रसिद्ध राजनेता थॉमस चांदलर हेलिबर्टन ने भी कहा था, ‘समय की पाबंदी बिजनेस की आत्मा है।’ ब्रेनसन लिखते हैं, ‘मैं ये नहीं कहता कि ये आत्मा है लेकिन यह पैकेज का महत्वपूर्ण हिस्सा जरूर है।’

ब्रैनसन ऐसे अकेले व्यक्ति नहीं हैं जो समय की पाबंदी को इतना महत्व देते हैं। बल्कि इसी साल जुलाई में टेस्ला ने भी अपने कर्मचारियों के लिए नई हाजिरी योजना बनाई है। जिसमें कर्मियों को देरी से आने के बाद जुर्माना देना पड़ता है। टेस्ला का कहना है कि जब कोई एक कर्मचारी देरी से आता है तो उससे पूरे व्यापार की दक्षता खतरे में पड़ सकती है।

You Might Also Like