भारत के अहम मुद्दों पर सक्रिय रहते हैं पत्रकार प्रणय

भारत के अहम मुद्दों पर सक्रिय रहते हैं पत्रकार प्रणय

भारत में पत्रकारिता की शुरूआत तो पहले ही हो गई ​थी लेकिन समय के साथ साथ हुए बदलावों से पत्रकारिता में भी बदलाव होते गए, वर्तमान समय में पत्रकारिता के क्षेत्र में बहुत परिवर्तन आया है और पत्रकारिता मेें एक नाम प्रणय जेम्स रॉय का भी है, जिन्होने बतौर पत्रकार के भारत में हिंदी न्यूज चैनल भी संभाला हैं प्रणय जेम्स का जन्म 15 अक्टूबर 1949 को कोलकाता में हुआ था, वे एक भारतीय पत्रकार और मीडिया व्यक्तित्व हैं, प्रणय रॉय ने अपनी पत्नि राधिका राय के साथ नई दिल्ली टेलीविजन एनडीटीवी नामक चैनल की शुरूआत की जिसके वे सह-संस्थापक और कार्यकारी सह-अध्यक्ष हैं। 

प्रणय रॉय के पिता कलकत्ता में एक ब्रिटिश कंपनी की भारतीय इकाई के साथ कार्य करते हुए ईसाई धर्म में परिवर्तित हो गए, वे मुख्य रूप से हिंदू नहीं बल्कि विरोधवादी संप्रदाय के थे, यहां बता दें कि डीडी अपग्रेड में धोखाधड़ी का आरोप लगाने के लिए सीबीआई ने 1998 में चैनल एनडीटीवी के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र का मामला दर्ज​ किया था, लेकिन जुलाई 2013 में प्रणय रॉय और एनडीटीवी के लिए अदालतों द्वारा मंजूरी दे दी गई और आपराधिक षड्यंत्र और भ्रष्टाचार रोकथाम अधिनियम के तहत सीबीआई द्वारा दायर मामलों सहित सभी आरोपों से मुक्त कर दिया था।

प्रणय रॉय भारत में एक टीवी पत्रकार होने के साथ ही एक लेखक और पेशेवर ब्रिटिश चार्टर्ड एकाउंटेंट और अर्थशास्त्री हैं, उन्होने भारत के राष्ट्रीय टेलीविजन नेटवर्क दूरदर्शन और बीबीसी वर्ल्ड न्यूज में भारत के लिए चुनाव विश्लेषण और बजट विशेषताओं के लिए सफल एंकरिंग की है। 1988 में रॉय ने अपनी पत्रकार पत्नि राधिका के साथ नई दिल्ली टेलीविजन नामक एक टेलीविजन प्रोडक्शन हाउस लॉन्च किया और फिर प्रणय रॉय ने भारत के आम चुनावों के टेलीविज़न कवरेज के साथ अपना करियर शुरू किया, उन्होने भारत के पहले 24 घंटे के अंग्रेजी समाचार चैनल एनडीटीवी 24×7 को भी शुरू किया। 10 मई 2018 में आयकर विभाग ने प्रणय रॉय और पत्नि के खिलाफ कर चोरी करने के तहत एनडीटीवी चैनल के खिलाफ आपराधिक कार्यवाही शुरू की थी। 

You Might Also Like