डोनाल्ड ट्रंप ने दिए संकेत- पद छोड़ सकते हैं रक्षा मंत्री मैटिस

डोनाल्ड ट्रंप ने दिए संकेत- पद छोड़ सकते हैं रक्षा मंत्री मैटिस

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को एक इंटरव्यू में कहा कि रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस को “डेमोक्रेट की तरह” बताते हुए कहा कि वह अपना पद छोड़ सकते हैं.

सीबीएस के रविवार को प्रसारित “60 मिनट्स” कार्यक्रम में ट्रंप से पूछा गया कि क्या वह चाहते हैं कि मैटिस पद छोड़ दें? इस पर ट्रंप ने कहा, “ऐसा हो सकता है कि वह छोड़ दें. अगर आप सच जानना चाहते हैं तो मुझे लगता है  कि वह एक तरह से डेमोक्रेटहैं, लेकिन जनरल मैटिस अच्छे व्यक्ति हैं. हम साथ में बहुत अच्छी तरह से रहते हैं. वह पद छोड़ सकते हैं. मेरा मतलब है कि एक वक्त हर कोई जाता है.”

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उन्होंने दो दिन पहले मैटिस के साथ लंच किया था. नौसेना के सेवानिवृत्त 4 स्टार वाले जनरल मैटिस ने उन्हें बताया था कि वह पद छोड़ रहे हैं. ट्रंप ने अपने मंत्रिमंडल में बदलाव के संकेत दिए थे जिसके बाद उन्होंने मैटिस पर यह टिप्पणी की. पिछले सप्ताह ही संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने अचानक इस्तीफे की घोषणा कर दी थी.

राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, “मैं चीजें बदल रहा हूं और मैं इसका अधिकार रखता हूं. मेरे पास अब ऐसे लोग हैं जो असाधारण हैं. वे प्रशासन में आएंगे और असाधारण साबित होंगे. मुझे लगता है कि हमारे पास बड़ा अच्छा मंत्रिमंडल है. कुछ लोग हैं जिनसे मैं खुश नहीं हूं और मेरे पास कुछ अन्य लोग भी हैं जिनमें मैं बेहद खुश हूं.”

पहले भी हो चुके हैं इस्तीफे

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए यह बड़ा झटका माना जा रहा है. पिछले कुछ समय से राष्ट्रपति ट्रंप के करीबियों का इस्तीफा देने का सिलसिला जारी है. पिछले सप्ताह ही संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने अचानक इस्तीफे की घोषणा कर दी थी.

संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की स्थायी प्रतिनिधि बनने से पहले हेली साउथ कारोलिना की गवर्नर थीं. वह इस पद पर पहुंचने वाली देश की पहली महिला भी थीं. वह 2014 में फिर से साउथ कारोलिना की गवर्नर चुनी गईं. संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की स्थायी प्रतिनिधि बनने से पहले हेली, साउथ कारोलिना की गवर्नर थीं. वह इस पद पर पहुंचने वाली देश की पहली महिला भी थीं. वह 2014 में फिर से साउथ कारोलिना की गवर्नर चुनी गईं थीं.

सितंबर में ट्रंप को देश के लिए “शर्मनाक” बताने वाले एक प्रतिष्ठित एडमिरल (सेवानिवृत्त) विलियम मैकरावेन ने रक्षा मंत्रालय सलाहकार निकाय से इस्तीफा दे दिया था. मैकरावेन ने अगस्त में डिफेंस इनोवेशन बोर्ड से इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने 2014 में पाकिस्तान में विशेष अभियान चलाकर अल-कायदा के सरगना ओसामा बिन लादेन को मारने वाली स्पेशल फोर्सेज का संचालन किया था.

जून में एस्टोनिया में अमेरिकी राजदूत जेम्स डी. मेलविले जूनियर ने भी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टिप्पणियों से निराश होकर इस्तीफा दे दिया था. जेम्स तब 2018 में राज्य विभाग को जल्दी छोड़ने वाले तीसरे एंबेसडर बने थे.

You Might Also Like