नहीं पहचाने गए नीरज के कातिल, दो की फोटो जारी

नहीं पहचाने गए नीरज के कातिल, दो की फोटो जारी

कैंट में दुर्गा पूजा पांडाल के अंदर सैकड़ों लोगों के सामने नीरज वाल्मीकि की हत्या कर बदमाशों ने पुलिस को खुली चुनौती दी है। कातिलों के चेहरे पुलिस के सामने हैं लेकिन 24 घंटे बीतने के बाद भी पुलिस के हाथ पूरी तरह से खाली हैं। पुलिस ने बुधवार की रात दो बदमाशों की फोटो जारी की है। फोटो सीसीटीवी फुटेज से निकाले गए हैं। बदमाशों प्रतापगढ़ या कौशांबी के भी हो सकते हैं। वहां भी फोटोग्राफ्स भेजी गई हैं।   

बदमाशों ने जिस तरह से नीरज वाल्मीकि की हत्या की है, उससे साफ है कि न तो उन्हें पुलिस का कोई खौफ था न ही भीड़ का। चारों हत्यारे बमों और गोलियों से लैस होकर आए थे। एक बदमाश तो दोनों हाथों से फायरिंग कर रहा था। उनकी मोडस आप्रेंडी से साफ लग रहा है कि चारों प्रोफेशनल हैं। गोलियों के साथ बम के प्रयोग की वजह से माना जा रहा है कि वे इलाहाबाद या आसपास के हैं। घटना की सीसीटीवी फुटेज मिलने के बाद माना जा रहा था कि पुलिस जल्द ही घटना का खुलासा कर देगी लेकिन 24 घंटे बीतने के बाद भी न तो नीरज की किसी खास दुश्मनी के बारे में पता चल पाया न गिरोह चारों कातिलों के बारे में।

सीसीटीवी फुटेज से पुलिस ने दो हत्यारों की तस्वीरों को निकालकर उसे जारी किया है। एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि जिनकी फोटो कुछ स्पष्ट है, उनके बारे में पता लगाया जा रहा है। शहर के अलावा कौशांबी और प्रतापगढ़ में भी फोटो भेजी गई है। फिलहाल घर वालों ने भी किसी को नामजद नहीं किया न ही किसी दुश्मनी के बारे में बताया है। नीरज का नाम जिन घटनाओं में सामने आया थे, सभी को देखा जा रहा है। इसमें झूंसी और पुलिस लाइन के सामने दो ठेकेदारों की हत्या हुई थी, वह भी शामिल हैं। इसके अलावा गुंडा टैक्स वसूली और दूसरे गैंग से दुश्मनी को भी देखा जा रहा है। फिलहाल क्राइम ब्रांच के साथ कई थानों की फोर्स को लगाया गया है।

नीरज की हत्या से पहले कातिल ने उससे करीब 19 सेकेंड तक बात की थी। उससे हाथ भी मिलाया था। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि नीरज कातिल को जानता था। यह भी हो सकता है कि कातिल ने नीरज के पास जाकर किसी के बारे में कुछ कहा हो। फिलहाल इतना तय है कि हत्या से पहले नीरज की एक कातिल से बात हुई थी।

You Might Also Like