दशहरे के दिन अमृतसर में हुए ट्रेन हादसे के बाद से देश भर में शोक की लहर

दशहरे के दिन अमृतसर में हुए ट्रेन हादसे के बाद से देश भर में शोक की लहर

दशहरे के दिन अमृतसर में हुए ट्रेन हादसे के बाद से देश भर में शोक की लहर है. मृत लोगों के घरों में जहां मातम पसरा हुआ है तो वहीं हादसे के वक्त मौके पर मौजूद लोग मंत्री नवजोत कौर सिद्धू पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं. मौके की नजाकत को समझते हुए पूर्व रेल मंत्री पवन बंसल नवजोत कौर के बचाव में सामने आए हैं. 

 पवन बंसल ने कहा कि जो भी हुआ है दुखदायी है. कैसे हुआ ये अभी तो इस चाजों के प्रति कुछ कहना गलत होगा. पेपर पढ़कर मुझे जानकारी मिली की रेलवे ट्रैक पर मौजूद लोग ट्रेन आने पर भागे और ये हादसा हो गया. लोग कह रहे हैं कि मिनिस्टर की वाइफ वहां मौजूद थी लेकिन इसमें मिनिस्टर की वाइफ कहां से जिम्मेदार हो गई. ये तर्कहीन बात है. इक्वायरी हो रही है और ये कैसे हुआ सब बाद में पता चलेगा. इसमें एक चीज होनी चाहिए थी कि प्रशासन को रेलवे को इंफॉर्म करना चाहिए था. आज के दिन राजनीति नहीं होनी चाहिए. 

क्यों लगे नवजोत कौर पर आरोप 

मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि रावण दहन कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस नेता डॉ. नवजोत कौर मंच पर मौजूद थीं लेकिन घटना की जानाकरी मिलते ही वो वहां से मिनकल गईं. वहीं कुछ लोग यह आरोप भी लगा रहे हैं कि नवजोत कौर के कार्यक्रम में देरी से पहुंचने की वजह से यह हादसा हुआ है. स्थानीय लोगों ने नवजोत कौर के खिलाफ नारेबाजी की और उनका इस्तीफा तक मांगा है. बता दें कि शुक्रवार शाम रावण दहन देखने के लिए रेल पटरियों पर खड़े लोग ट्रेन की चपेट में आने से 60 से ज्‍यादा लोगों की मौत हो गई, जबकि 72 अन्य घायल हो गए.

You Might Also Like