सऊदी दूतावास में कर दी गई पत्रकार जमाल खशोगी की हत्‍या, नाराज अमेरिका

सऊदी दूतावास में कर दी गई पत्रकार जमाल खशोगी की हत्‍या, नाराज अमेरिका

सऊदी अरब ने इस्तांबुल वाणिज्य दूतावास में जमाल खशोगी के मारे जाने की पुष्टि की. सऊदी की सरकारी समाचार एजेंसी ने कहा कि शाही सरकार ने खशोगी की हत्या पर गहरा खेद जताया है. सरकारी मीडिया के मुताबिक, सऊदी अरब ने अपने शीर्ष खुफिया अधिकारी को बर्खास्त कर दिया है. 

इससे पहले पत्रकार जमाल खशोगी की गुमशुदगी मामले की जांच के तहत इस्तांबुल में सऊदी अरब वाणिज्य दूतावास के कर्मचारियों से शुक्रवार को पूछताछ की गई और शहर के एक जंगल में तलाश अभियान चलाया गया. इस बीच, अंकारा ने खशोगी के बारे में अमेरिकी अधिकारियों को जांच से जुड़ी कोई ऑडियो रिकार्डिंग देने से इनकार कर दिया है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खशोगी की मौत होने की आशंका को स्वीकार किया है. उनकी गुमशुदगी को 17 दिन हो चुके हैं. सरकार समर्थक तुर्कीश मीडिया ने बार-बार दावा किया है कि खशोगी को वाणिज्य दूतावास के अंदर प्रताड़ित किया गया. हालांकि, तुर्की ने जांच का ब्योरा अब तक साझा नहीं किया.

तुर्की के जांचकर्ताओं ने वाणिज्य दूतावास और वाणिज्य दूत के आवास की तलाशी लिए जाने के बाद यह पूछताछ की. गौरतलब है कि खशोगी दो अक्टूबर को वाणिज्य दूतावास में घुसने के बाद से नहीं देखे गए हैं. तुर्की के अधिकारियों ने दावा किया है कि उनकी वहां हत्या कर दी गई.

लापता पत्रकार मामले में रियाद ने अपना किया बचाव, सऊदी के शाह की बढ़ी मुश्किलें
शुक्रवार को ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि उन्हें लगता है सऊदी अरब के लापता पत्रकार जमाल खशोगी मर चुके हैं. साथ ही उन्होंने इसमें सऊदी अरब का हाथ होने पर “बेहद गंभीर” परिणामों की चेतावनी दी. ट्रंप का यह बयान सऊदी अरब एवं तुर्की के दौरे से लौटे विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ द्वारा जांच की जानकारी देने के बाद आया है.

इस महीने की शुरुआत में तुर्की की राजधानी इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब के दूतावास में प्रवेश करने के बाद से लापता हुए खशोगी के संबंध में आशंका है कि दूतावास के भीतर ही उनकी हत्या कर दी गई है. इस घटना के बाद से विश्व भर में और उससे भी ज्यादा अमेरिका में रोष है. 

You Might Also Like