बैंक स्टाफ ने रंगे हाथ पकड़ा हैकर, एटीएम को धोखा देकर निकाली थी रकम

बैंक स्टाफ ने रंगे हाथ पकड़ा हैकर, एटीएम को धोखा देकर निकाली थी रकम

शहर में एटीएम में छेड़छाड़ करके रकम निकालने वाले शातिरों ने बैंकों की नाक में दम कर रखा है। एटीएम से रुपये निकल जाते हैं लेकिन मशीन में फीडिंग नहीं होती है। ऐसे हैकर अब बैंक प्रबंधन के लिए चुनौती बन गए है। शनिवार को एटीएम से छेड़छाड़ कर रकम निकाल रहे एक हैकर को पीएनबी के स्टाफ ने रंगेहाथ पकड़ लिया। उसके पास से एटीएम कार्ड और 10 हजार रुपये बरामद हुए लेकिन मशीन में रकम निकासी का रिकार्ड फीड नहीं हुआ था। पुलिस अब गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश में जुटी है।

इस तरह पकड़ा गया शातिर

पंजाब नेशनल बैंक के सेंट्रल सिक्योरिटी सर्वर की टीम ने शनिवार सुबह सीसीटीवी कैमरे के जरिये जाजमऊ स्थित एटीएम पर युवक को कार्ड स्वाइप कर रकम निकालते देखा। युवक ने कैश ट्रे से निकले नोट अंगुली से दबाया तो कंट्रोल रूम पर निगाह जमाए बैठे स्टाफ को शक हुआ। स्टाफ ने बैंक शाखा प्रबंधक आफताब अहमद को फोन कर दिया। इस बीच युवक ने पूरी रकम निकाल ली। इधर तुरंत बैंक अधिकारी पहुंच गए और युवक को एटीएम से निकलते हुए दबोच लिया। उसने पहले एटीएम दिखाकर दबाव में लेने की कोशिश की लेकिन बैंक अधिकारियों ने तत्काल ही एटीएम ट्रांजेक्शन डाटा की जांच की तो पता चला कि युवक द्वारा किया गया ट्रांजेक्शन फेल हुआ है लेकिन रकम निकल गई है।

बीकॉम का छात्र है आरोपित, गिरोह की तलाश में पुलिस

पीएनबी के वरिष्ठ सुरक्षा प्रबंधक संजय शर्मा ने बताया कि पहले भी हैकर पैसे निकाल चुके हैं और बाद में ट्रांजेक्शन फेल की पर्ची दिखा बैंक से क्लेम ले लेते हैं। इंस्पेक्टर अजय सेठ ने बताया कि आरोपित जेके कालोनी का रहने वाला बीकॉम का छात्र है, पूछताछ की जा रही है। पूरे गैंग का खुलासा होने की उम्मीद है।

हाईटेक सिक्योरिटी सिस्टम से एटीएम सुरक्षा

पंजाब नेशनल बैंक ने अपने एटीएम की सुरक्षा के लिए हाईटेक सिक्योरिटी सिस्टम शुरू किया है। इसका मेन सर्वर मुंबई में और लोकल सर्वर जिलों में बनाए गए हैं। कानपुर में भी रीजनल आफिस में सिक्योरिटी सर्वर है। यहां मौजूद कर्मचारी 24 घंटे एटीएम पर नजर रखते हैं। एटीएम पर गार्ड न भी हो तो वह सीसीटीवी कैमरे व मशीन में मौजूद अलार्म सिस्टम के जरिए छेड़छाड़ व हैकिंग की घटनाएं पकड़ सकते हैं। पिछले दिनों मुंबई स्थित सर्वर के कर्मचारियों की मुस्तैदी के चलते ही रेलबाजार में बिजनौर का शातिर हैकर भी पकड़ा जा चुका है।

You Might Also Like