अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर, केंद्र तथा यूपी के मंत्रियों की राय जुदा

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर, केंद्र तथा यूपी के मंत्रियों की राय जुदा

अयोध्या में भगवान श्रीराम मंदिर के निर्माण को लेकर साधु-संत लगातार हुंकार भर रहे हैं। इसके साथ ही तमाम धार्मिक संगठन तथा विश्व हिंदू परिषद व अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद भी जल्द ही अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण की मांग कर रहे हैं। इनके बीच नरेंद्र मोदी सरकार तथा योगी आदित्यनाथ के मंत्रियों की राय जुदा है। वाराणसी में केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण जल्दी ही होगा। उधर आजमगढ़ में उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि कोर्ट के निर्णय के बाद ही सरकार राम मंदिर के निर्माण के बारे में विचार करेगी।

वाराणसी में केंद्रीय पयर्टन मंत्री तथा नोएडा से सांसद डॉ. महेश शर्मा आज सारनाथ में केंद्रीय तिब्बती उच्च शिक्षा संस्थान के 15वें दीक्षा समारोह में शामिल होने आए थे। इस मौके पर मीडिया से वार्ता में डॉ. महेश शर्मा ने कहा कि पूरे देश में अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करने की मांग की जा रही है। इस क्रम में मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या में पत्थर पहुंचने लगा है। ऐसे में मंदिर का निर्माण जल्द शुरू होने की संभावना है।

इसी बीच उन्होंने यह भी कहा कि अयोध्या में मंदिर निर्माण कोर्ट व आपसी सहमति से ही किया जाएगा। उन्होंने अयोध्या में मंदिर निर्माण कोर्ट का फैसला जल्द आने की उम्मीद जताई। डॉ. शर्मा ने कहा कि मंदिर निर्माण के पक्ष में पूरा देश खड़ा है। इसके बाद भी आपसी सहमति या फिर कोर्ट के फैसले के बाद ही अध्योया में मंदिर निर्माण किया जाएगा।

कोर्ट के निर्णय के बाद राम मंदिर के बारे में सोचेगी सरकार : केशव

आजमगढ़ में उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या वन मंत्री दारा सिंह चौहान के पिता के निधन के बाद उनको शोक संवेदना देने पहुंचे थे। वह हैलीपेड पर से सीधे वह वन मंत्री दारा चौहान के पिता की मौत पर उनके घर शोक संवेदना व्यक्त करने पहुंचे। यहां उन्होंने उनके पिता के चित्र पर श्रद्धांजलि अर्पित की।

इसके बाद वापसी में हेलीपैड पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि अगर कोर्ट से राममंदिर का कोई हल नहीं नहीं निकलता है तो सरकार इस दिशा में सार्थक पहल करेगी। पहले हम कोर्ट के फैसले का इंतजार करेंगे।

You Might Also Like