अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर पूर्व विधायक गंगा सिंह चौहान

अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर पूर्व विधायक गंगा सिंह चौहान

एससी-एसटी एक्ट में संशोधन को लेकर हरदोई में बड़ा आंदोलन आकार लेने लगा है। आंदोलनकारी इसे सर्व समाज से जुड़ा मामला मानकर संघर्ष कर रहे हैं। वह समाज की लड़ाई अंतिम सांस तक लड़ने पर आमादा है। इस संघर्ष को पूर्व विधायक गंगा सिंह चौहान नेतृत्व दे रहे हैं। इसके लिए अखिल भारतीय क्षत्रिय कल्याण परिषद के तत्वावधान में तेरह दिन से क्रमिक अनशन जारी है। अब पूर्व विधायक ने क्रमिक अनशन समाप्त करने की घोषणा की और गुरुवार को परिषद अध्यक्ष पूर्व डीजीपी यशवंत सिंह समेत राष्ट्रीय पदाधिकारियों की मौजूदगी में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल की शुरू कर दी है।  एससी-एसटी एक्ट में संशोधन को लेकर हरदोई में बड़ा आंदोलन आकार लेने लगा है। आंदोलनकारी इसे सर्व समाज से जुड़ा मामला मानकर संघर्ष कर रहे हैं। वह समाज की लड़ाई अंतिम सांस तक लड़ने पर आमादा है। इस संघर्ष को पूर्व विधायक गंगा सिंह चौहान नेतृत्व दे रहे हैं। इसके लिए अखिल भारतीय क्षत्रिय कल्याण परिषद के तत्वावधान में तेरह दिन से क्रमिक अनशन जारी है। अब पूर्व विधायक ने क्रमिक अनशन समाप्त करने की घोषणा की और गुरुवार को परिषद अध्यक्ष पूर्व डीजीपी यशवंत सिंह समेत राष्ट्रीय पदाधिकारियों की मौजूदगी में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल की शुरू कर दी है।    अंतिम सांस तक समाज की लड़ाई लड़ेंगे  परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व विधायक गंगा सिंह चौहान ने कहा कि एससी-एसटी एक्ट संशोधन मामला सर्व समाज से जुड़ा है। वह समाज की लड़ाई अंतिम सांस तक लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि वह विगत 13 दिनों से क्रमिक अनशन पर है, लेकिन शासन और जिला प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की। राजवर्धन सिंह राजू ने कहा कि सबका साथ सबका विकास का नारा देेने वाली भाजपा सरकार ने एससीएसटी कानून में संशोधन कर  सवर्ण समाज को परेशानी में डाल दिया है।   पट्टा की पैमाइश के लिए रिश्वत लेते लेखपाल गिरफ्तार यह भी पढ़ें नई मुसीबत में फंस रहे समाज के लोग  धरना स्थल पर मौजूद लोगों का मानना है कि समाज के लोग नई मुसीबत में फंसते दिख रहे हैं। सबका साथ सबका विकास का नारा तभी संभव है जब एससी एसटी कानून में किए गए संशोधन को वापस किया जाए। धरने में अधिवक्ता संघ उपाध्यक्ष राजीव सिंह चंदेल, प्रयाग सिंह, रबी मिश्रा, राजेंद्र सिंह, अखिलेश अग्निहोत्री, प्रवीण सिंह,  केपी सिंह भदौरिया, उमेश सिंह, अखिलेश सिंह, प्रकाश सिंह आदि मौजूद रहे

अंतिम सांस तक समाज की लड़ाई लड़ेंगे

परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व विधायक गंगा सिंह चौहान ने कहा कि एससी-एसटी एक्ट संशोधन मामला सर्व समाज से जुड़ा है। वह समाज की लड़ाई अंतिम सांस तक लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि वह विगत 13 दिनों से क्रमिक अनशन पर है, लेकिन शासन और जिला प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की। राजवर्धन सिंह राजू ने कहा कि सबका साथ सबका विकास का नारा देेने वाली भाजपा सरकार ने एससीएसटी कानून में संशोधन कर  सवर्ण समाज को परेशानी में डाल दिया है।

नई मुसीबत में फंस रहे समाज के लोग

धरना स्थल पर मौजूद लोगों का मानना है कि समाज के लोग नई मुसीबत में फंसते दिख रहे हैं। सबका साथ सबका विकास का नारा तभी संभव है जब एससी एसटी कानून में किए गए संशोधन को वापस किया जाए। धरने में अधिवक्ता संघ उपाध्यक्ष राजीव सिंह चंदेल, प्रयाग सिंह, रबी मिश्रा, राजेंद्र सिंह, अखिलेश अग्निहोत्री, प्रवीण सिंह,  केपी सिंह भदौरिया, उमेश सिंह, अखिलेश सिंह, प्रकाश सिंह आदि मौजूद रहे

You Might Also Like