दुष्कर्म पीड़िता किशोरी की गला दबाकर हत्या, पुलिस पर लापरवाही का आरोप

दुष्कर्म पीड़िता किशोरी की गला दबाकर हत्या, पुलिस पर लापरवाही का आरोप

थाना फूलबेहड़ क्षेत्र में दुष्कर्म पीडि़त किशोरी की गला दबाकर हत्या कर दी गई। उसका शव घर के आंगन में पड़ा मिला। किशोरी की मां ने गांव के ही तीन लोगों पर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी, जिस पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी है। किशोरी के शव को पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। थाना फूलबेहड़ क्षेत्र में दुष्कर्म पीडि़त किशोरी की गला दबाकर हत्या कर दी गई। उसका शव घर के आंगन में पड़ा मिला। किशोरी की मां ने गांव के ही तीन लोगों पर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी, जिस पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी है। किशोरी के शव को पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।  घटना थाना क्षेत्र के एक गांव की है। यहां की निवासी 14 वर्षीय किशोरी के साथ बीती दो अक्टूबर की रात गांव के ही रज्जन मिश्रा ने घर में घुसकर दुष्कर्म किया था, जिसकी रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई थी, लेकिन आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार नहीं किया। तभी से आरोपित युवक, किशोरी और उसकी मां पर सुलह का दबाव बना रहा था, लेकिन किशोरी और उसकी मां ने सुलह करने से मना कर दिया था।  गुरुवार सुबह आठ बजे उक्त किशोरी अपने स्कूल में परीक्षा देने गई थी और उसकी मां, जोकि शिक्षामित्र है, वह अपने स्कूल गई थी। स्कूल से पूर्वाह्न 10:45 बजे किशोरी वापस आ रही थी। रास्ते में मिले उसके भाई ने उससे कहा कि घर जाकर खाना का लेना और वहां से दादी के घर चली जाना। इसके थोड़ी देर बाद भाई जब घर पहुंचा तो घर के आंगन में उसने बहन का शव पड़ा देखा और उसके गले में रस्सी कसी हुई थी। यह देख भाई की चीख निकल गई और वह दौड़ता हुआ अपने दादी-बाबा के घर पहुंचा व घटना के बारे में  बताया, तो घर में कोहराम मच गया।   हर महीने कोतवाली में एक रात बितायेंगे हिस्ट्रीशीटर यह भी पढ़ें सूचना पर पहुंची फूलबेहड़ पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। फूलबेहड़ इंस्पेक्टर विद्याराम दिवाकर ने बताया कि किशोरी की मां ने दुष्कर्म के आरोपित रज्जन मिश्रा व उसके पिता सुरेंद्र मिश्रा और गांव के ही निवासी कल्लू के खिलाफ रस्सी से गला दबाकर हत्या किए जाने की तहरीर दी है। प्रथम दृष्टया मामला गला दबाकर हत्या किए जाने का ही लग रहा है। तहरीर के आधार पर तीनों आरोपितों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्जथाना फूलबेहड़ क्षेत्र में दुष्कर्म पीडि़त किशोरी की गला दबाकर हत्या कर दी गई। उसका शव घर के आंगन में पड़ा मिला। किशोरी की मां ने गांव के ही तीन लोगों पर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी, जिस पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी है। किशोरी के शव को पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।  घटना थाना क्षेत्र के एक गांव की है। यहां की निवासी 14 वर्षीय किशोरी के साथ बीती दो अक्टूबर की रात गांव के ही रज्जन मिश्रा ने घर में घुसकर दुष्कर्म किया था, जिसकी रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई थी, लेकिन आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार नहीं किया। तभी से आरोपित युवक, किशोरी और उसकी मां पर सुलह का दबाव बना रहा था, लेकिन किशोरी और उसकी मां ने सुलह करने से मना कर दिया था।  गुरुवार सुबह आठ बजे उक्त किशोरी अपने स्कूल में परीक्षा देने गई थी और उसकी मां, जोकि शिक्षामित्र है, वह अपने स्कूल गई थी। स्कूल से पूर्वाह्न 10:45 बजे किशोरी वापस आ रही थी। रास्ते में मिले उसके भाई ने उससे कहा कि घर जाकर खाना का लेना और वहां से दादी के घर चली जाना। इसके थोड़ी देर बाद भाई जब घर पहुंचा तो घर के आंगन में उसने बहन का शव पड़ा देखा और उसके गले में रस्सी कसी हुई थी। यह देख भाई की चीख निकल गई और वह दौड़ता हुआ अपने दादी-बाबा के घर पहुंचा व घटना के बारे में  बताया, तो घर में कोहराम मच गया।   हर महीने कोतवाली में एक रात बितायेंगे हिस्ट्रीशीटर यह भी पढ़ें सूचना पर पहुंची फूलबेहड़ पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। फूलबेहड़ इंस्पेक्टर विद्याराम दिवाकर ने बताया कि किशोरी की मां ने दुष्कर्म के आरोपित रज्जन मिश्रा व उसके पिता सुरेंद्र मिश्रा और गांव के ही निवासी कल्लू के खिलाफ रस्सी से गला दबाकर हत्या किए जाने की तहरीर दी है। प्रथम दृष्टया मामला गला दबाकर हत्या किए जाने का ही लग रहा है। तहरीर के आधार पर तीनों आरोपितों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। कर लिया गया है।

घटना थाना क्षेत्र के एक गांव की है। यहां की निवासी 14 वर्षीय किशोरी के साथ बीती दो अक्टूबर की रात गांव के ही रज्जन मिश्रा ने घर में घुसकर दुष्कर्म किया था, जिसकी रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई थी, लेकिन आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार नहीं किया। तभी से आरोपित युवक, किशोरी और उसकी मां पर सुलह का दबाव बना रहा था, लेकिन किशोरी और उसकी मां ने सुलह करने से मना कर दिया था।

गुरुवार सुबह आठ बजे उक्त किशोरी अपने स्कूल में परीक्षा देने गई थी और उसकी मां, जोकि शिक्षामित्र है, वह अपने स्कूल गई थी। स्कूल से पूर्वाह्न 10:45 बजे किशोरी वापस आ रही थी। रास्ते में मिले उसके भाई ने उससे कहा कि घर जाकर खाना का लेना और वहां से दादी के घर चली जाना। इसके थोड़ी देर बाद भाई जब घर पहुंचा तो घर के आंगन में उसने बहन का शव पड़ा देखा और उसके गले में रस्सी कसी हुई थी। यह देख भाई की चीख निकल गई और वह दौड़ता हुआ अपने दादी-बाबा के घर पहुंचा व घटना के बारे में  बताया, तो घर में कोहराम मच गया।

सूचना पर पहुंची फूलबेहड़ पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। फूलबेहड़ इंस्पेक्टर विद्याराम दिवाकर ने बताया कि किशोरी की मां ने दुष्कर्म के आरोपित रज्जन मिश्रा व उसके पिता सुरेंद्र मिश्रा और गांव के ही निवासी कल्लू के खिलाफ रस्सी से गला दबाकर हत्या किए जाने की तहरीर दी है। प्रथम दृष्टया मामला गला दबाकर हत्या किए जाने का ही लग रहा है। तहरीर के आधार पर तीनों आरोपितों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

You Might Also Like