पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की तारीख करीब , जानिए क्या कहता है सट्टा बाजार

पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की तारीख करीब , जानिए क्या कहता है सट्टा बाजार

 पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की तारीख करीब आने के साथ ही सियासी पारा चढ़ने लगा है. राजनीतिक पार्टियों इन राज्यों में फिर से सत्ता में आने और सत्ता में वापसी के लिए अपना पसीना बहा रहा हैं. वहीं, इन सबके बीच कुछ लोग ऐसे हैं जो यह दावा कर रहे हैं कि मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में सत्ता विरोधी लहर के बावजूद बीजेपी फिर से सरकार बनाएगी. वहीं, उनका दावा है कि राजस्थान में कांग्रेस फिर से सत्ता में वापसी करेगी. 

दरअसल, यह दावा कर रहा है सट्टा बाजार. सट्टा बाजार का दावा है कि पांच में से दो राज्यों मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी फिर से सत्ता हासिल करेगी. राजस्थान में बीजेपी को नुकसान होगा और यहां कांग्रेस सत्ता में वापसी कर सरकार बनाएगी.

कांग्रेस पर दांव लगाने वालों को मिल रहा है मुनाफा
इस चुनावी मौसम में सट्टा बाजार में जमकर पैसा बरस रहा है. सट्टा लगवाने वाले बुकियों की मानें तो, अगर कोई व्यक्ति बीजेपी पर 10 हजार रुपये का सट्टा लगाता है और बीजेपी सत्ता में आती है तो, उसे 11 हजार रुपये मिलेंगे. वहीं, अगर वह कांग्रेस पर दांव लगाता है तो, उसे 4,400 रुपये के बदले 10 हजार रुपये मिलेंगे. सट्टा बाजार में चल रहे भाव के हिसाब से कांग्रेस पर सट्टा लगाने से लोगों को ज्यादा लाभ मिल रहा है, क्योंकि सट्टा बाजार का मानना है कि कांग्रेस शायद ही मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में सत्ता में वापसी कर पाए. 

लोग बीजेपी पर लगा रहे हैं खुलकर दांव
हालांकि, सट्टा बाजार के अनुसार, राजस्थान में कांग्रेस वापसी कर सकती है. सट्टेबाजों के अनुसार, लोग बीजेपी पर ही ज्यादा दांव लगा रहे हैं. वहीं, टिकट बंटवारा होने के बाद सट्टा का रेट बदल सकता है. लेकिन, कहा जा रहा है कि टिकट की घोषणा से इसके रेट पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा. दरअसल, सट्टा बाजार की शुरुआत क्रिकेट से हुई थी और अब यह चुनाव में भी पैंठ बना चुका है. वहीं, ऑनलाइन सट्टे के साथ ही कई माध्यमों से हर चुनाव में करोड़ों रुपये का सट्टा लगाया जाता है. इसके ऑनलाइन होने के कारण ही पुलिस को इसे पकड़ने खासी मुश्किल होती है.

You Might Also Like