लौहपुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल की 141वीं जयंती पर देश दौड़

लौहपुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल की 141वीं जयंती पर देश दौड़

लौहपुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल की 141वीं जयंती पर देश दौड़ है. देशभर में रन फॉर यूनिटी का आगाज है चुका है, लोग विकास की इस दौड़ में एकता का संदेश लेकर गुजर रहा है. दिल्ली में गृह मंत्री राजनाथ सिंह और खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने झंड़ा दिखाकर रन फॉर यूनिटी का आगाज किया. इस दौरान जिमनास्ट दीपा कर्मकर के साथ कई अन्य खिलाड़ी भी मौजूद रहे. 

वहीं, केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भुवनेश्वर में रन फॉर यूनिटी में हिस्सा लिया. देश के कई राज्यों में लोग दौड़ लगा रहे हैं. दिल्ली के साथ-साथ उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हिमाचल, महाराष्ट्र आदि शहरों में भी लोग रन फॉर यूनिटी के तहत दौड़ लगा रहे हैं. 

साल 2017 में भी रन फार यूनिटी कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. इस दौरान उन्होंने कहा था कि देश की आजादी के लिए सरदार पटेल ने अपना जीवन खपा दिया. उन्‍होंने साम-दाम-दंड-भेद के इस्‍तेमाल से देश को रियासतों में नहीं बंटने दिया गया और राष्‍ट्र के एकीकरण में अहम भूमिका निभाई. पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि इसके बावजूद आज की पीढ़ी को सरदार साहब के इतिहास के योगदान को कम करके बताया गया. इतिहास के झरोखे से इस महापुरुष के योगदान को मिटाने का प्रयास किया गया या उनके योगदान को कमतर करके पेश करने की कोशिश की गई, लेकिन इस देश की युवा पीढ़ी उनको इतिहास से ओझल करने के लिए तैयार नहीं है. इसलिए जब हम सत्‍ता में आए तो सरदार पटेल की जयंती पर रन फार यूनिटी मनाने का निश्‍चय किया गया.  

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के प्रथम गृहमंत्री रहे सरदार वल्लभभाई पटेल के सम्मान में बनाई गई दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति ‘स्टैचू ऑफ यूनिटी’ का बुधवार (31 अक्टूबर) को अनावरण करेंगे. 182 मीटर ऊंची विशाल ‘स्टैचू ऑफ यूनिटी’ अमेरिका की ‘स्टैचू ऑफ लिबर्टी’ से दोगुनी ऊंची है और गुजरात के नर्मदा जिले में सरदार सरोवर बांध के पास साधु बेट टापू पर खड़ी है. लोकसभा चुनाव से ठीक पहले सरदार पटेल की इस विशालकाय प्रतिमा के अनावरण के राजनीतिक मायने भी निकाले जा रहे हैं. 

‘स्टैचू ऑफ यूनिटी’ का अनावरण कार्यक्रम बेहद भव्‍य होने जा रहा है. प्रधानमंत्री मोदी द्वारा प्रतिमा के अनावरण के बाद वायु सेना के तीन विमान वहां उड़ान भरेंगे और केसरिया, सफेद और हरे रंग से आसमान में तिरंगा उकेरेंगे. पटेल की प्रतिमा के पास मोदी ‘वॉल ऑफ यूनिटी’ का भी उद्घाटन करेंगे. उस समय तीन जगुआर लड़ाकू विमान काफी नीचे से उड़ान भरते हुए जाएंगे. दो एमआई-17 हेलीकॉप्टर प्रतिमा पर पुष्पवर्षा करेंगे. इस अवसर पर गुजरात पुलिस, सशस्त्र और अर्द्धसैनिक बलों के बैंड सांस्कृतिक और संगीत कार्यक्रमों की प्रस्तुति देंगे. इस मौके पर 29 राज्यों और दो केंद्रशासित प्रदेशों के कलाकार नृत्य और संगीत की प्रस्तुति देंगे. इस दौरान कई आकर्षण होंगे, जिनमें 17 किलोमीटर लंबी फूलों की घाटी का उद्घाटन, प्रतिमा के पास पर्यटकों के लिए तंबुओं के शहर और पटेल के जीवन पर आधारित संग्रहालय का लोकार्पण भी शामिल है.

You Might Also Like