देश का सम्मान बढ़ाने वाली एक ख़बर का विश्लेषण

देश का सम्मान बढ़ाने वाली एक ख़बर का विश्लेषण

अब हम देश का सम्मान बढ़ाने वाली एक ख़बर का विश्लेषण करेंगे . आज World Bank ने Ease of Doing Business पर अपनी नई रिपोर्ट जारी की है . इस रिपोर्ट में भारत की Rank में सबसे ज्यादा सुधार देखने को मिला है. सामान्य भाषा में कहा जाए तो आसानी से कारोबार करने के मामले में भारत ने अपनी स्थिति में बहुत बड़ा सुधार किया है. भारत की Rank में 23 Points का सुधार हुआ है. दुनिया के 190 देशों के बीच सबसे बड़ी छलांग, भारत ने ही लगाई है. सबसे पहले हम आपको इस रिपोर्ट के Highlights बता देते हैं. 

ये 2019 की Ease of Doing Business रिपोर्ट है. ये उन देशों की लिस्ट है, जिनमें व्यापार करना सबसे ज्यादा आसान है. और ऐसे 190 देशों की लिस्ट में भारत 77वें नंबर पर है. बड़ी बात ये है कि पिछले वर्ष इस लिस्ट में भारत 100वें नंबर पर था. यानी भारत की Rank में 23 Points का Jump आया है, जो देश के लिए एक बड़ी उपलब्धि है. आपके दिमाग में ये सवाल भी आ रहा होगा कि दुनिया का वो कौन सा देश है, जिसमें व्यापार करना सबसे ज्यादा आसान है. 

Ease of Doing Business के मामले में New Zealand पहले नंबर पर, Singapore दूसरे नंबर पर , Denmark तीसरे नंबर पर , Hong Kong चौथे नंबर पर और South Korea पांचवें नंबर पर है. अमेरिका और इंग्लैंड भी Top 10 देशों में शामिल हैं.अब आपको ये भी बता देते हैं कि भारत के पड़ोसियों की क्या स्थिति है. सबसे पहले बात चीन की. Ease of Doing Business में चीन की स्थिति भारत से बहुत बेहतर है. चीन इस Index में 46वें नंबर पर है. पिछले साल चीन 78वें नंबर पर था. 

इसके अलावा नेपाल 110वें नंबर पर, श्रीलंका 100वें और पाकिस्तान 136वें नंबर पर हैं. पाकिस्तान की स्थिति पहले के मुकाबले थोड़ी बेहतर हुई है.. क्योंकि पिछले वर्ष पाकिस्तान 147वें नंबर पर था . वैसे आतंकवाद के व्यापार में पाकिस्तान बहुत तरक्की कर रहा है . पाकिस्तान की सरकार और सेना आतंकवादियों को विशेष सम्मान और सुविधा उपलब्ध करवाती है. वहां आतंकवाद के Start-up के लिए माहौल बहुत अच्छा है.

Ease of Doing Business में कुछ मापदंड तय किए जाते हैं जिनमें ये देखा जाता है कि उस देश की सरकार… निवेशकों को व्यापार करने की सुविधाए कितनी जल्दी उपलब्ध करवाती है . इनमें निर्माण कार्य के लिए अनुमति मिलना, बिजली कनेक्शन का मिलना, व्यापार करने के लिए कर्ज़ मिलना शामिल है. इन सभी मापदंडो में भारत की रैंकिग में सुधार हुआ है . कुल मिलाकर इस रिपोर्ट का सार ये है कि भारत में व्यापार करना पहले के मुकाबले आसान हो गया है.

You Might Also Like