वृंदावन पहुंचे तेजप्रताप बोले- मुझे अपनी जिंदगी जी लेने दो भाई,

वृंदावन पहुंचे तेजप्रताप बोले- मुझे अपनी जिंदगी जी लेने दो भाई,

राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद यादव के पुत्र और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव शनिवार को फिर वृंदावन पहुंच गए. तेज प्रताप दोपहर बाद तक वहीं रहे. तेज प्रताप पत्नी एश्वर्य से तलाक के लिए अदालत में अर्जी लगाने को लेकर चर्चा में हैं. गले में कंठी माला पहने और माथे पर तिलक लगाए और सफेद रंग का कुर्ता-पायजामा पहने राजद नेता शनिवार को करीब एक बजे अचानक वृन्दावन के केशी घाट पहुंचे. तेज प्रताप ने पौन घण्टे तक अपने मित्रों के साथ केशी घाट पर नौका विहार किया. हालांकि इस दौरान उन्होंने मीडिया से दूरी बनाए रखी.

वृंदावन की संकरी गलियों से निकलते हुए जब कुछ पत्रकारों ने उनसे बात करने की कोशिश की तो तेज प्रताप ने कहा- ‘मुझे अपनी जिंदगी जी लेने दो भाई. मैं शांति की तलाश में हूं. उसमें अनावश्यक हस्तक्षेप न करें.’ शुक्रवार को भी तेज प्रताप मथुरा और वृंदावन आए थे.

भाई तेजप्रताप के तलाक के मामले में कुछ नहीं बोलूंगा : तेजस्वी

बड़े भाई तेज प्रताप यादव के पारिवारिक रिश्तों में आयी खटास के बारे में पूछे जाने पर बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव आज बिफर गये और मीडिया को उनके पारिवारिक मामलों से दूर रहने की हिदायत दी.

नौ सौ पचास करोड़ रुपये के चारा घोटाले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद से मिलने आये उनके छोटे बेटे तथा बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से जब मीडिया ने तेज प्रताप के बारे में पूछा तो उन्होंने भड़कते हुए कहा, ‘‘मेरे परिवार के बारे में ए टू जेड मामले को उठाने की आवश्यकता नहीं है. यह घरेलू मामला है और इससे परिवार के लोग निपट लेंगे.’ तेजस्वी ने मीडिया के लोगों से पलट कर पूछा, ‘‘आप बतायें, आप के घर किसने भोजन बनाया, आप ने या आप की पत्नी ने ? भोजन अच्छा बना था या खराब बना था? आप दोनों ने साथ खाया भोजन?’’

उन्होंने कहा कि ऐसे निजी सवालों का कोई मतलब नहीं है और किसी के पारिवारिक मामलों में दखल नहीं देना चाहिए. तेजस्वी ने कहा, ‘‘जैसा मैं पहले ही कह चुका हूं, यदि निजी मामले उठाये गये तो फिर प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक सबकी पोल खुल सकती है.’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे सिर्फ देश और बिहार की चिंता है. घर के मामले को तो घर के लोग सलटा लेंगे.

You Might Also Like