गाजा में इजरायली हवाई हमले, हमास टीवी की इमारत ध्वस्त

गाजा में इजरायली हवाई हमले, हमास टीवी की इमारत ध्वस्त

 गाजा पट्टी में मंगलवार को इजरायली हवाई हमला में हमास की ‘अल-अक्सा टीवी’ की इमारत ध्वस्त हो गई. चेतावनी भरे सिलसिलेवार हमलों के बाद यह हमला किया गया. इजरायल और फलस्तीनी आतंकवादियों के बीच हिंसा भड़कने के बाद यह हमला किया गया. हमास ने गाजा सिटी में इमारत के ध्वस्त होने की पुष्टि कर दी है. वहीं, इस्लामिक जिहादियों ने इज़राइली कार्रवाई का मुंहतोड़ जवाब देने का संकल्प लिया है.

घटना में किसी के हताहत होने की तत्काल कोई खबर नहीं है. ऐसा माना जा रहा है कि चेतावनी भरे हमलों के बाद ही वहां काम करने वाले लोगों को इमारत से बाहर निकाल लिया गया था.

हमास फलस्तीनी क्षेत्र का सबसे प्रमुख इस्लामी चरमपंथी संगठन है. इसका गठन 1987 के जनआंदोलन के दौरान हुआ था. इसके बाद से ये फलस्तीनी क्षेत्रों से इजरायली सेना को हटाने के लिए संघर्ष चला रहा है. हमास इजरायल को मान्यता नहीं देता और यह पूरे फलस्तीनी क्षेत्र में इस्लामी राष्ट्र की स्थापना करना चाहता है. 

आपको बता दें कि गाजा पट्टी में इस्रायली सेना के एक अभियान के दौरान रविवार को दोनों तरफ से गोलीबारी हुई, जिसमें छह फलस्तीनियों और एक इज़रायली सैनिक की मौत हो गई. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. इस घटना से उन उम्मीदों को झटका लगा है कि एक हालिया समझौता से वहां शांति बहाल हो जाएगी. संघर्ष के बाद दोनों के बीच तनाव बढ़ गया है. इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के कार्यालय ने कहा कि वह पेरिस की यात्रा को बीच में ही समाप्त करके स्वदेश लौट रहे हैं. वह प्रथम विश्व युद्ध के सौ साल पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने पेरिस गये थे.

इजरायली सेना ने पुष्टि की कि संघर्ष के दौरान उनके एक सैनिक की मौत हो गई और अन्य घायल हो हुए. इजरायली सेना ने एक बयान में कहा था कि गाजा पट्टी में अभियान के दौरान दोनों तरफ से गोलीबारी हो गई. इस घटना में आईडीएफ के एक अधिकारी की जान चली गई और एक अतिरिक्त अधिकारी मामूली रूप से घायल हो गए.

फलस्तीनी सुरक्षा सूत्रों ने बताया कि यह मुठभेड़ दक्षिणी गाजा पट्टी में खान यूनिस के पूर्वी इलाके में हुई है. गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता अशरफ अल-कुद्र ने बताया कि छह फलस्तीनी मारे गए हैं. एक स्थानीय अस्पताल ने बताया कि मरने वालों में हमास के सशस्त्र विंग ‘एजेदीन अल-कासम ब्रिगेड’ का एक स्थानीय कमांडर भी था.

You Might Also Like