पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के घर पुलिस ने चिपकाया इश्तेहार, कुर्की जब्ती शुरू

पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के घर पुलिस ने चिपकाया इश्तेहार, कुर्की जब्ती शुरू

आर्म्स एक्ट मामले में बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के पैतृक आवास पर ढोल-बाजे के साथ पहुंची पुलिस ने पहले इश्तेहार चिपकाया और अब उनकी संपत्ति की कुर्की जब्ती शुरू हो चुकी है। मंजू के घर से  क-एक सामान को निकाला जा रहा है। 

मंजू वर्मा के श्रीपुर अर्जुन टोला स्थित घर की कुर्की जब्ती शुरू होते ही ग्रामीण आक्रोशित हो गए। लेकिन, ग्रामीणों के हंगामा मचाने के बाद भी पुलिस कुर्की जब्ती की कार्रवाई कर रही है। हंगामा ना हो इसको लेकर काफी संख्या में सुरक्षा बलों को भी तैनात किया गया है। मंझौल डीएसपी भी खुद वहां मौजूद हैं।

मंझौल अनुमंडल न्यायालय ने घर पर इश्तेहार चिपकाने व कुर्की-जब्ती करने का आदेश दिया था, जिसके बाद पुलिस ये कार्रवाई कर रही है। 

पुलिस ने गुरुवार को धारा 82 व 83 एक्ट के तहत मंझौल कोर्ट में मंजू के खिलाफ कुर्की का आदेश देने का आवेदन दिया था। आवेदन पर सुनवाई करते हुए कोर्ट से पहले इश्तेहार चिपकाने का आदेश मिला। इसकी जानकारी मिलते ही आनन-फानन में मंझौल डीएसपी तथा अन्य अधिकारी कोर्ट पहुंचे व कोर्ट से कुर्की का आदेश देने की गुहार लगाई। इसके बाद मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ने कुर्की का आदेश दिया। 

 

हालांकि, मंजू वर्मा के वकील ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि मंजू ने सुप्रीम कोर्ट में अग्रिम जमानत का आवेदन दे रखा है इसलिए कुर्की का आदेश नहीं जारी किया जाए लेकिन कोर्ट ने मंजू के वकील की दलील को नकारते हुए मंजू के घर इश्तेहार चिपकाने व सरेंडर नहीं करने पर कुर्की-जब्ती का आदेश दे दिया। 

मंजू के साथ अपराधी जैसा होगा बर्ताव 

डीजीपी केएस द्विवेदी ने शुक्रवार को कहा कि पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के खिलाफ ठीक उसी तरह से कार्रवाई हो रही है जैसे एक अपराधी के साथ होती है। छापेमारी जारी है। उन्हें हर हाल में गिरफ्तार किया जाएगा। अब गिरफ्तारी पर समय सीमा तय नहीं की जा सकती है। मंजू वर्मा एक अपराधी हैं और पुलिस उनके साथ एक अपराधी जैसा ही सलूक कर रही है। इसी के तहत कुर्की के लिए कोर्ट से अनुरोध किया गया था। 

आर्म्स एक्ट मामले में पुलिस कर रही तलाश

मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामला सामने आने के बाद इस्तीफा देने वाली पूर्व समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा फरार है। आर्म्स एक्ट मामले में उनके खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया गया था। तीन माह से पुलिस उनकी गिरफ्तारी की कोशिश कर रही है, लेकिन वह हाथ नहीं आ रही हैं। पुलिस लगातार मंजू वर्मा को गिरफ्तार करने के लिए छापे मार रही है। उनके कई रिश्तेदारों के घर की तलाशी ली जा चुकी है। 

You Might Also Like