मोदी आज हरियाणा को देंगे 3 बड़े तोहफे, दिल्ली समेत चार राज्यों को होगा लाभ

मोदी आज हरियाणा को देंगे 3 बड़े तोहफे, दिल्ली समेत चार राज्यों को होगा लाभ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ देर बाद हरियाणा के लोगों को तीन परियोजनाएं समर्पित करेंगे। पीएम कुंडली-मानेसर-पलवल (केएमपी) एक्सप्रेस-वे और मुजेसर से बल्लभगढ़ तक मेट्रो लाइन का उद्घाटन करेंगे, जिससे फरीदाबाद और दिल्ली के लोगों की यात्रा काफी सुविधाजनक हो जाएगी। वह देश के पहले श्री विश्वकर्मा कौशल विकास विश्वविद्यालय का शिलान्यास भी करेंगे। यह विश्वविद्यालय पलवल जिले के दुधोला गांव में बनेगा। कुंडली-मानेसर-पलवल (केएमपी) एक्सप्रेस-वे के चालू होने से न केवल हरियाणा को लाभ मिलेगा, बल्कि राजस्थान, यूपी और कुछ हद तक दिल्ली के लोग भी लाभान्वित होंगे।

प्रधानमंत्री मोदी सोमवार को गुरुग्राम के सुल्तानपुर गांव में एक बड़ी रैली में केएमपी के साथ ही फरीदाबाद के मुजेसर से बल्लभगढ़ तक 3.02 किलोमीटर लंबे मेट्रो रेल लिंक का भी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से उद्घाटन करेंगे। इस मार्ग पर 580 करोड़ रुपये की लागत आई है।

उधर, बल्लभगढ़ मेट्रो के उद्घाटन के लिए मंच तैयार है। पीएम मोदी मेट्रो का उद्घाटन गुरुग्राम से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए करेंगे। इस दौरान उद्घाटन की औपचारिकता बल्लभगढ़ मेट्रो स्टेशन पर भी निभाई जाएगी, जिसमें केंद्रीय आवास एवं शहरी विकास मामलों के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होंगे। वहीं, कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल पहुंच चुके हैं। 

केएमपी की देखेंगे डॉक्यूमेंट्री

केएमपी को उम्मीदों का और प्रगति का एक्सप्रेस-वे माना जा रहा है। हरियाणा सरकार ने केएमपी पर पांच नए शहर बसाने का ब्लू प्रिंट बनाया है। इन्हें पंचग्राम का नाम दिया है। ये शहर गुजरात की गिफ्ट सिटी की तर्ज पर विकसित होंगे। इनमें सिंगापुर जैसी खूबियां होंगी। इन शहरों के विकास से जुड़ी एक तीन मिनट की एक फिल्म बनाई गई है जिसे प्रधानमंत्री को दिखाया जाएगा।

कुुंडली गाजियाबाद पलवल ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे (केजीपी) के उद्घाटन के महज छह माह बाद ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को कुंडली मानेसर पलवल वेस्टर्न एक्सप्रेस-वे (केएमपी) जनता को समर्पित करेंगे। 6434 करोड़ रुपये की लागत से बने 135.65 किलोमीटर लंबे केएमपी मार्ग का 55 किलोमीटर लंबा पलवल से मानेसर तक का हिस्सा हरियाणा सरकार ने 15 जुलाई 2016 को पूरा कर जनता के लिए खोल दिया था। प्रधानमंत्री मोदी अब बकाया कुंडली से मानेसर मार्ग का उद्घाटन करेंगे। इससे राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली को यातायात जाम और प्रदूषण से राहत मिलेगी।

पुलिस की ट्रैफिक व्यवस्था

  •   19 नवंबर सुबह 6 बजे से शुरू होकर शाम 6 बजे सभी प्रकार के भारी वाणिज्य वाहन जैसे ट्रक, ट्राला आदि को गुरुग्राम में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। उन्हें जिला की सीमा पर रोक दिया जाएगा।
  •   रैली स्थल की तरफ जाने वाले मार्ग पर सभी प्रकार के हैवी व हल्के कमर्शियल वाहनों के जाने पर प्रतिबंध रहेगा
  •  हीरो होंडा चौक से फरुखनगर, बादली, पटौदी रोड की ओर जाने वाले हैवी व हल्के कमर्शियल वाहनों के जाने पर प्रतिबंध रहेगा शाम से ही शुरू हुई वाहनों की जांच

कार्यक्रम स्थल को जहां एसपीजी ने अपने कब्जे में ले रखा है, वहीं पुलिस ने रविवार शाम से ही वाहनों की तलाशी शुरू कर दी। रैली स्थल पर जाने वाले मार्गों पर नाकेबंदी कर वाहनों की जांच के अलावा पहले से खड़े वाहनों की तलाशी ली गई। पुलिस का प्रयास है कि आमजन को परेशानी न हो और सुरक्षा में कोई कोताही न हो पाए। वहीं रविवार का अंतिम रिहर्सल भी कर ली गई। मत्थे के लिए

इनके हाथों में सुरक्षा

  •  200 से अधिक एसपीजी के अधिकारी व जवान
  •  20 अफसर आइजी व एसपी रैंक के, 50 डीएसपी / एसीपी रैंक के, 150 इंस्पेक्टर समेत 4000 पुलिस कर्मी तैनात कर दिए गए हैं।

बता दें, 2006 में कांग्रेस सरकार ने दिल्ली को जाम व प्रदूषण से मुक्ति दिलाने के लिए दिल्ली के पूर्व में कुंडली-गाजियाबाद-पलवल(केजीपी) और पश्चिम में केएमपी एक्सप्रेस वे की योजना बनाई। तब जुलाई 2009 तक इन दोनों मार्गों का दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स-2010 से पहले निर्माण पूरा होना था। मगर तत्कालीन सरकार केएमपी पर ही निर्माण शुरू करवा पाई और नवंबर 2014 तक आधा हिस्सा भी पूरा नहीं हुआ था।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली को मिलेगी यातायात जाम और प्रदूषण से राहत

प्रदेश में सतारूढ़ होने पर हरियाणा की भाजपा सरकार ने नवंबर 2014 में इसे अपने हाथ में लिया। हरियाणा सरकार के उद्योग विभाग ने इस साल 27 मई को जनता के लिए खोले गए केजीपी एक्सप्रेस मार्ग की लागत 9428 करोड़ रुपये की तुलना में 2994 करोड़ रुपये कम लागत पर तैयार कराया है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के पूर्व और पश्चिम में बने केजीपी और केएमपी एक्सप्रेस मार्ग से एनसीआर के शहरों फरीदाबाद, गुरुग्राम, गाजियाबाद, नोएडा ही नहीं बल्कि हरियाणा, राजस्थान व उत्तर प्रदेश को सीधा फायदा होगा।

90 मिनट में पलवल से कुंडली

केएमपी एक्सप्रेस-वे के खुलने से पलवल से कुंडली का सफर सिर्फ 90 मिनट में पूरा होगा। अभी तक कुंडली जाने के लिए वाहनों को दिल्ली होकर गुजरना पड़ता था और पीक ऑवर में 3-4 घंटे तक समय लगता था।

रफ्तार पर रोक

केएमपी एक्सप्रेस-वे पर वाहन 120 किलोमीटर प्रति घंटे के गति से दौड़े सकेंगे। उद्घाटन के बाद अगले कुछ महीने तक वाहनों की गति पर रोक रहेगी और सिर्फ 80 किलोमीटर प्रति घंटे से चलने की अनुमति होगी।

मेट्रो से जुड़ने वाला हरियाणा का चौथा शहर होगा बल्लभगढ़

यहां पर बता दें कि सोमवार को बल्लभगढ़ मेट्रो के उद्घाटन के साथ ही गुरुग्राम, फरीदाबाद, बहादुरगढ़ के बाद बल्लभगढ़ मेट्रो रेल लाइन से जुड़ने वाला हरियाणा का चौथा शहर हो जाएगा। इसके अलावा प्रधानमंत्री इस रैली स्थल से ही पलवल के दूधौला गांव में श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय की भी आधारशिला रखेंगे। देश के पहले कौशल विश्वविद्यालय के निर्माण पर 989 करोड़ रुपये की लागत आएगी। यह विश्वविद्यालय 82.5 एकड़ में बनाया जा रहा है। 

You Might Also Like