रामपुर के धमौरा रेलवे स्टेशन के पास कल देर रात पैसेंजर ट्रेन की आठ बोगी पटरी से उतर गई

रामपुर के धमौरा रेलवे स्टेशन के पास कल देर रात पैसेंजर ट्रेन की आठ बोगी पटरी से उतर गई

रामपुर के धमौरा रेलवे स्टेशन के पास कल देर रात पैसेंजर ट्रेन की आठ बोगी पटरी से उतर गई। इस रेल दुर्घटना के चलते मुरादाबाद-बरेली रेल मार्ग को बंद कर दिया गया। इसके बाद देर रात ट्रेनों को बदले रूट मुरादाबाद-चन्दौसी-बरेली होते हुए निकाला गया।रामपुर के धमौरा रेलवे स्टेशन के पास कल देर रात पैसेंजर ट्रेन की आठ बोगी पटरी से उतर गई

रामपुर में धमोरा के पास रेलवे लाइन पर मरम्मत का काम शुरू हो गया है। अधिकारी भी मौके पर पहुँच गए हैं। दुर्घटनाग्रस्त ट्रेन अभी मौके पर ही है। अप लाइन लखनऊ से दिल्ली पर ट्रेनों को धीमी गति से निकाला जा रहा है।

मुरादाबाद से लखनऊ के इस रेलवे रूट को करीब तीन बजे शुरू किया गया। इसके बाद लखनऊ- मुरादाबाद की ट्रेनों को धीमी गति से चलाना शुरू कर दिया गया। दुर्घटनाग्रस्त यह ट्रेन मरम्मत के लिए बरेली जा रही थी। उसमें कोई भी यात्री नहीं था। हादसे में गार्ड सतीश चंद्र को गंभीर चोट आई है। वह रोजा स्टेशन पर तैनात हैं और शाहजहांपुर के रहने वाले हैं।

रामपुर में यह हादसा बुधवार रात हुआ। 12 बोगी की पैसेंजर ट्रेन मरम्मत के लिए निजामउद्दीन स्टेशन से बरेली जा रही थी। इस ट्रेन में कोई भी यात्री नहीं था। सिर्फ इंजन में दो चालक और एक गार्ड ड्यूटी पर थे। चालक अमितेश कुमार, सह चालक अर्जित सिंह और गार्ड सतीश चंद्र को मुरादाबाद से ट्रेन में बरेली तक के लिए तैनात किया गया था।

ट्रेन रामपुर से आगे बढ़ी तो धमौरा-दुगनपुर स्टेशन के बीच इंजन के पीछे की आठ बोगी पटरी से उतर गई। इस हादसे की जानकारी कंट्रोल रूम को मिलते ही मुरादाबाद-बरेली रूट बंद कर दिया गया। दुर्घटना राहत ट्रेन घटनास्थल मौके पर पहुंच गई है। मंडल रेल प्रबंधक अजय कुमार सिंघल भी अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंच गए। रामपुर के पुलिस अधीक्षक शिवहरि मीणा भी मौके पर पहुंचे।

हादसे के चलते दो सौ मीटर पटरी उखड़ गई है। साथ ही बिजली लाइन के तार भी टूट गए हैं। गार्ड सतीश ने बताया कि एक झटका लगा था उसके बाद ट्रेन पटरी से उतर गई।

हादसे के चलते लखनऊ की ओर जाने वाली सत्याग्रह एक्सप्रेस, गरीब रथ, शहीद, नौचंदी, बेगमपूरा एक्सप्रेस, लखनऊ मेल समेत करीब 14 ट्रेनें रास्ते में खड़ी कर दी गईं। हादसे के करीब डेढ़ घंटे बाद रात साढ़े 12 बजे से ट्रेनों को बदले रूट मुरादाबाद-चन्दौसी-बरेली होते हुए निकाला गया।

हादसे में गार्ड सतीश को गंभीर चोट आई है। गार्ड को मौके पर ही डॉक्टर ने इलाज दिया है। उन्हें अंदरूनी चोटें आई हैं। मंडल रेल प्रबंधक अजय कुमार सिंघल ने बताया अभी घटना का कारण पता नहीं चल पाया है। दुर्घटना राहत ट्रेन मुरादाबाद से घटनास्थल पर पहुंच गई है। फिलहाल ट्रेनों को बदले रूट से निकाला जा रहा है। 

You Might Also Like