दिल्ली के कई इलाकों में तो यह खतरनाक श्रेणी में दर्ज किया गया

दिल्ली के कई इलाकों में तो यह खतरनाक श्रेणी में दर्ज किया गया

पिछले कई दिनों से दिल्लीवासियों को परेशान कर रहा प्रदूषण का स्तर बृहस्पतिवार को भी खराब बना हुआ है। दिल्ली के साथ एनसीआर के शहरों गाजियाबाद, फरीदाबाद, नोएडा, गुरुग्राम में हवा में प्रदूषण की मात्रा कई गुना है। दिल्ली के कई इलाकों में तो यह खतरनाक श्रेणी में दर्ज किया गया। अगले 24 घटों तक इससे राहत मिलने की कोई संभावना भी नहीं है। 

इससे पहले बुधवार को भी बेहद खराब बना रहा। एनसीआर में भी कमोबेश यही स्थिति बनी रही। हैरत की बात यह कि प्रदूषण की इस स्थिति में भी बेहतरी के कुछ खास प्रयास न होने से नाराज चल रहे पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण एवं संरक्षण प्राधिकरण (ईपीसीए) ने बृहस्पतिवार को एक आपात बैठक बुलाई है।

इसमें दिल्ली में गैर सीएनजी चालित वाहनों पर रोक लगाने के प्रस्ताव पर भी चर्चा होगी। जानकारी के मुताबिक बुधवार को दिल्ली का एयर इंडेक्स 373 रहा। सुबह आठ बजे इसका स्तर 394 था। लेकिन, इसके बाद तेज धूप खिली तो इसमें आंशिक कमी आई।

एनसीआर के शहरों की बात करें तो भिवाड़ी में एयर इंडेक्स 444, गाजियाबाद में 383, ग्रेटर नोएडा में 392, गुरुग्राम में 345 और नोएडा में 377 रहा। सफर इंडिया के पूर्वानुमान के अनुसार इस समय वायु गुणवत्ता काफी खराब है। पिछले कई दिनों से यह बेहद खराब श्रेणी में ही बनी हुई है।

अभी अगले दो तीन दिन और इस प्रदूषण से राहत नहीं मिलेगी। इस समय हवाओं की गति काफी कम है, इसलिए प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है। हवा में नमी भी काफी अधिक है। सफर ने लोगों को अधिक देर तक घर से बाहर न निकलने की सलाह भी दी है। दोपहर के समय धीमी गति की सैर की जा सकती हैं।

एडवाइजरी में यह भी कहा है कि यदि एसी बाहर की हवा को खींचता है तो उसे बंद रखें, घर की खिड़किया व दरवाजे भी बंद रखें। यहां तक कि मोमबत्ती, मच्छर अगरबत्ती और पूजा वाली अगरबत्ती का इस्तेमाल भी न करें। मौसम विभाग का पूर्वानुमान भी अगले दो दिनों तक प्रदूषण से राहत मिलने की बात से इनकार कर रहा है। उत्तर-पश्चिम की प्रदूषित हवाएं दिल्ली आ रही हैं। इसी वजह से प्रदूषण स्तर में इजाफा हो रहा है।

बृहस्पतिवार को पीएम 2.5 का स्तर भी बढ़ेगा, हालांकि एयर इंडेक्स बेहद खराब श्रेणी में बना रहेगा।

ईपीसीए ने बुलाए टैक्सी संचालक, हटानी होंगी डीजल टैक्सियां
ईपीसीए ने बृहस्पतिवार को ओला और उबर सहित सभी टैक्सी संचालक एजेंसियों की बैठक बुलाई है। इसमें उन्हें दिल्ली से डीजल की टैक्सियां हटाने के लिए कहा जाएगा। इसके लिए उन्हें निर्धारित समयसीमा के भीतर डीजल टैक्सियों को सीएनजी टैक्सी में बदलने की मोहलत दी जा सकती है।

प्रदूषण पर कांग्रेस का कैंडल मार्च आज
वायु प्रदूषण पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने बुधवार को फेसबुक लाइव किया। उन्होंने कहा कि दिल्ली की हवा लगातार जहरीली हो रही है, लेकिन इसकी रोकथाम के लिए कुछ नहीं किया जा रहा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में जो कुछ प्रयास किए गए थे, आज वह भी नहीं हो रहे हैं। इसके विरोध स्वरूप माकन ने बृहस्पतिवार को दिल्ली के निवासियों को कैंडल मार्च के लिए आमंत्रित भी किया। मालूम हो कि माकन के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ता बृहस्पतिवार की शाम कैंडल मार्च निकालेंगे और मानव श्रृंखला बनाएंगे। स्थान रहेगा राजीव चौक, कनॉट प्लेस।

You Might Also Like