सूबे में पर्यटन विभाग व बीएसएफ मिलकर नौ दिसंबर से तीन दिवसीय रुस्तमजी एमटीबी चैलेंज चैंपियनशिप कराने की तैयारी कर रहे हैं

सूबे में पर्यटन विभाग व बीएसएफ मिलकर नौ दिसंबर से तीन दिवसीय रुस्तमजी एमटीबी चैलेंज चैंपियनशिप कराने की तैयारी कर रहे हैं

प्रदेश में अब अगले माह से माउंटेन बाइकिंग का रोमांच देखने को मिलेगा। पर्यटन विभाग व बीएसएफ मिलकर नौ दिसंबर से तीन दिवसीय रुस्तमजी एमटीबी चैलेंज चैंपियनशिप कराने की तैयारी कर रहे हैं। इस प्रस्तावित चैंपियनशिप में बाइकर्स देहरादून में परेड ग्राउंड से मसूरी होते हुए मालदेवता तक जाएंगे। इसी तरह अगले वर्ष अप्रैल में पिथौरागढ़ से मसूरी तक की तकरीबन 800 किमी लंबी माउंटेन बाइकिंग चैंपियनशिप पर भी विचार किया जा रहा है।

उत्तराखंड में साहसिक खेल तेजी से अपनी जगह बना रहे हैं। इसी कड़ी में माउंटेन बाइकिंग चैंपियनशिप कराने की तैयारी है। हाल ही में बीएसएफ के अधिकारियों ने सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर से मुलाकात कर इसकी रूपरेखा पर चर्चा की। प्रस्तावित चैंपियनशिप की शुरुआत परेड ग्राउंड से होगी। यहां से बाइकर्स मसूरी व धनोल्टी होते हुए मालदेवता पहुंचेंगे। यहां यह रैली समाप्त होगी। इसमें मुख्य आयोजन बीएसएफ का होगा, जबकि पर्यटन विभाग इसे प्रायोजित करेगा।

प्रस्तावित रूपरेखा के अनुसार इसमें 50 बाइकर्स बीएसएफ के और 50 स्थानीय होंगे। इसी तरह दोनों अप्रैल में पिथौरागढ़ से मसूरी तक के तकरीबन 800 किमी लंबे ट्रेक पर ट्रांस हिमालयन बाइक रैली निकालने पर भी विचार किया जा रहा है। यह सात दिनों की रैली होगी, जो अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, टिहरी व उत्तरकाशी से होते हुए मसूरी में आकर समाप्त होगी।

पर्यटन विभाग इसे वार्षिक इवेंट बनाने की तैयारी कर रहा है। सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने कहा कि दिसंबर में बीएसएफ के साथ एमटीबीपी रैली प्रस्तावित है। जल्द ही इसे अंतिम रूप देकर इसका प्रचार प्रसार किया जाएगा।

You Might Also Like