घर से दूर रहे तेजप्रताप यादव अचानक धोती-कुर्ता और बंडी पहने विधानसभा पहुंचे और आज शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन की कार्यवाही में भाग लेंगे

घर से दूर रहे तेजप्रताप यादव अचानक धोती-कुर्ता और बंडी पहने विधानसभा पहुंचे और आज शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन की कार्यवाही में भाग लेंगे

घर से दूर रहे तेजप्रताप यादव अचानक धोती-कुर्ता और बंडी पहने विधानसभा पहुंचे और आज शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन की कार्यवाही में भाग लेंगे। तेजप्रताप के चेहरे पर गहरी उदासी दिखी। 

अपने तलाक के फैसले पर अडिग राजद सुप्रीमो के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने दो टूक कह दिया है कि मैं अपने तलाक के फैसले पर अडिग हूं और ये मेरी लड़ाई है, खुद लड़ूंगा। एेसा कहना ये दर्शाता है कि वो अब अपने परिवार वालों के दबाव में नहीं आएंगे। शायद यही वजह है कि तेजप्रताप पटना में ही रह रहे हैं, अपने ठिकाने बदल रहे हैं, लेकिन बुधवार से अबतक घर नहीं पहुंचे हैं।

घर में था भोज, नहीं शामिल हुए तेजप्रताप

राबड़ी देवी के दस सर्कुलर रोड स्थित आवास पर तेजप्रताप के आने का बुधवार की रात और फिर गुरुवार की सुबह से ही इंतजार किया जाता रहा था, लेकिन वो पटना में रहते हुए भी वहां नहीं गए। यहां तक कि गुरुवार की शाम तेजप्रताप विधायकों के लिए 5 देशरत्न मार्ग में आयोजित सामूहिक भोज में भी शामिल नहीं हुए।

वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक तेजप्रताप यादव अपने दोस्तों के घर पर रह रहे हैं। साथ ही खबर ये भी मिल रही है कि शुक्रवार, यानि आज वे विधानसभा के शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन की कार्यवाही में भाग लेंगे।शीतकालीन सत्र के दौरान उन्होंने अबतक एक भी दिन अपनी उपस्थिति सदन में दर्ज नहीं करायी है। 

गुरुवार को मीडिया के सवालों से बचते रहे तेजप्रताप यादव

आमतौर पर सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले और जब-तबअपनी बात बेबाकी से रखने वाले तेजप्रताप यादव गुरुवार को मीडिया के सवालों से बचते नजर आए। तलाक की सुनवाई होने के बाद कोर्ट से बाहर निकलते ही मीडियाकर्मियों ने उन्हें घेरकर सवाल दागना शुरू कर दिया। लेकिन,  इस पर तेजप्रताप ने सिर्फ इतना कहा कि हम अपने फैसले पर अडिग हैं। किसी भी हालत में अपना फैसला नहीं बदलेंगे।

बुधवार की रात में ही पहुंचे पटना, रातभर बदले कई ठिकाने

तलाक की अर्जी पर होने वाली सुनवाई के लिए तेजप्रताप यादव बुधवार की रात में ही पटना पहुंच गए थे। तेजप्रताप बेली रोड स्थित एक होटल के कमरा नंबर 123 में ठहरे थे। वहां तेज के साथ उनके कुछ दोस्त भी थे। देर शाम तक जब यह बात सार्वजनिक हो गयी तो उन्होंने अपना ठिकाना बदल लिया। कहा जा रहा है कि मीडिया के सवालों से परेशान और पारिवारिक दबाव ना पड़े, इसीलिए उन्होंने मीडिया और परिवार से दूरी बना रखी है। 

गुरुवार को तेजप्रताप जब कोर्ट पहुंचे तो उनके चेहरे पर बहुत तनाव था और साथ ही नाराजगी भी झलक रही थी। तेजप्रताप कोर्ट से निकलकर सीधे अपने एक दोस्त के घर चले गए और वहीं उन्होंने रात गुजारी। बता दें कि यह पहला मौका है जब पटना में रहते हुए भी वो अपने घर से दूर होटलों में वक्त गुजार रहे हैं। 

सफेद शर्ट पीली बंडी पहने पहुंचे थे कोर्ट

वृंदावन में धोती पहने और माथे पर चंदन लगाए रहने वाले पूर्व स्वास्थ्य मंत्री गुरुवार को सफेद शर्ट पर पीली बंडी पहने दिखे। गले में तुलसी की माला और माथे पर तिलक लगाए हुए और दाढ़ी की बजाए क्लीन सेव। हालांकि उनके चेहरे पर थकावट साफ झलक रही थी। चेहरे से मुस्कुराहट गायब थी।

चार लोगों को ही कोर्ट रूम में मिला प्रवेश

कोर्ट में करीब 15 मिनट के लिए ही सुनवाई हुई। इस दौरान कुछ समर्थक और वकील भी कोर्ट रूम में अंदर प्रवेश करना चाह रहे थे, लेकिन सिर्फ चार लोगों को ही कोर्ट में प्रवेश मिला। ऐश्वर्या की तरफ से पक्ष रखने के लिए कोर्ट में राजनीति प्रसाद और योगेन्द्र प्रसाद यादव प्रवेश करना चाहा पर सुनवाई के समय वे भी बाहर दिखे।

ज्यादा बोलने से बचते रहे तेजप्रताप

आमतौर पर अपनी बात बेबाकी से रखने वाले तेजप्रताप गुरुवार को मीडिया के सवालों से बचते नजर आए। कोर्ट में कुछ देर की सुनवाई के बाद तेजप्रताप बाहर निकले। इनके दोनों अधिवक्ता साथ थे। वकीलों ने पहले ही तेजप्रताप को समझा दिया था कि मीडिया के सामने कुछ नहीं बोलना है।

सुनवाई के बाद समर्थकों ने तेजप्रताप को सबसे बचाना चाहा पर जैसे ही गेट के पास आए मीडियाकर्मियों ने उन्हें घेरकर सवाल दागना शुरू कर दिया। इस पर तेजप्रताप ने सिर्फ इतना कहा कि हम अपने फैसले पर अडिग हैं। किसी भी हालत में फैसला नहीं बदलेंगे।

इतना बोलने के बाद वे आगे बढ़े पर मीडिया ने उन्हें दोबारा घेर लिया। सवाल पूछने के लिए कुछ देर के लिए धक्का-मुक्की भी हुई, लेकिन दोस्तों ने उन्हें गाड़ी में बैठाया और लेकर कहीं चले गए।

आठ जनवरी को होगी अगली सुनवाई 

तेजप्रताप यादव की तलाक की अर्जी फैमिली कोर्ट ने मंजूर कर ली है। कोर्ट ने तेजप्रताप की अर्जी पर उनकी पत्नी ऐश्वर्या राय को नोटिस भी जारी कर दिया है। अब इस मामले की सुनवाई 8 जनवरी, 2019 को होगी। तेजप्रताप ने कहा कि हमने जो फैसला लिया है उसपर हम अडिग हैं, हम अपनी लड़ाई लड़ते रहेंगे।

You Might Also Like