बांग्लादेश ने वेस्टइंडीज को क्लीन स्वीप कर रचा इतिहास

बांग्लादेश ने वेस्टइंडीज को क्लीन स्वीप कर रचा इतिहास

 बांग्लादेश ने वेस्टइंडीज को दूसरे टेस्ट मैच में भी हराकर दो टेस्ट मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप करते हुए इतिहास रच दिया है. मेहमुदुल्लाह (136) की बल्लेबाजी और मेहदी हसन (7/58) की शानदार गेंदबाजी के दम पर बांग्लादेश क्रिकेट टीम ने यहां रविवार को खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज को एक पारी और 184 रनों से हरा दिया. शेर-ए बांग्ला नेशनल स्टेडियम में मिली इस जीत के साथ ही बांग्लादेश ने दो टेस्ट मैचों की सीरीज को 2-0 से अपने नाम कर लिया है. 

इस टेस्ट मैच में बांग्लादेश को ऐतिहासिक जीत मिली है. उसने टेस्ट के इतिहास में पहली बार किसी टीम को पारी के अंतर से हराया है. इतनी बड़ी जीत बांग्लादेश को अभी तक हासिल नहीं हुई थी. मेहदी हसन ने पहली पारी में 58 रन देकर सात और दूसरी पारी में 59 रन देकर पांच विकेट लिये. हसन (117 रन पर 12 विकेट) का यह प्रदर्शन किसी बांग्लादेशी गेंदबाज का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है.
 
पहले मेहमुदुल्लाह की शतकीय पारी

इस मैच में बांग्लादेश ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया था. मेहमुदुल्ला की शतकीय पारी के साथ-साथ कप्तान शाकिब अल-हसन (80) और शादमान इस्लाम (76) के शानदार प्रदर्शन के दम पर अपनी पहली पारी में 508 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा किया था. इस पारी में वेस्टइंडीज के लिए जोमेल वारिकान, कीमार रौच, देवेंद्र बिशू और कप्तान क्रेग ब्राथवेट ने दो -दो विकेट लिए, वहीं शेमरोन लेविस और रोस्टन चेस को एक सफलता मिली. 

111 रनों पर सिमटी वेस्टइंडीज

इसके बाद बांग्लादेश ने मेहदी के शानदार प्रदर्शन के दम पर वेस्टइंडीज की पहली पारी 111 रनों पर ही समेट दी. मेहमान टीम के लिए शिमरोन हेटमेर ने सबसे अधिक 39 रन बनाए और शेन डोरिक ने 37 रन बनाए. इसके अलावा, टीम का कोई बी बल्लेबाज दहाई से आगे नहीं बढ़ पाया. बांग्लादेश ने इसके बाद वेस्टइंडीज को फॉलोआन दिया. इसमें भी मेहदी (5/59) के बेहतरीन प्रदर्शन से मेजबान टीम ने वेस्टइंडीज को 213 के स्कोर पर लपेट दिया. 

128 साल पुराना रिकॉर्ड भी टूटा इस मैच में

इस मैच में एक खास रिकॉर्ड और बना. बांग्लादेश की पहली पारी के स्कोर 508 रन के जवाब में दूसरे दिन स्टंप्स तक पांच विकेट खोकर 75 रन बनाए थे. वेस्टइंडीज के पांच विकेट 29 रन के स्कोर पर गिर गए थे और ये पांचों बल्लेबाज बोल्ड हुए थे. कीरोन पावेल (4), सुनील एम्ब्रीस (7), रोस्टन चेज (0), शाई होप (10) भी 29 के कुल स्कोर तक पवेलियन लौट गए थे. टेस्ट क्रिकेट में 128 साल के बाद ऐसा हुआ कि जब किसी पारी में टॉप ऑर्डर के पहले पांच विकेट बोल्ड के रूप में आउट हुए. बांग्लादेश के स्पिनरों ने यह कमाल पहली बार किया है, जब शुरुआती पांचों बल्लेबाजों को स्पिनरों बोल्ड किया गया हो. 

1890 में ऑस्ट्रेलिया के पहले पांच खिलाड़ी हुए थे बोल्ड
टेस्ट क्रिकेट में यह सिर्फ तीसरी बार हुआ है, जब शुरुआती पांचों बल्लेबाज बोल्ड हुए हो. इससे पहले ऐसा संयोग 2 जनवरी 1879 और 11 अगस्त 1890 में बना था. इससे पहले 1890 में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलियाई टीम के पहले पांच विकेट बोल्ड के रूप में आउट हुए थे. 
 
मेहदी बने प्लेयर ऑफ द मैच
वेस्टइंडीज के लिए शिमरोन ने सबसे अधिक 93 रन बनाए. रौच ने 37 रनों का योगदान दिया. इसके अलावा, कोई भी बल्लेबाज अधिक समय तक मैदान पर नहीं टिक सका. बांग्लादेश के लिए मेहदी के अलावा, ताइजुल इस्लाम ने तीन विकेट लिए. शाकिब और नईम हसन को एक-एक सफलता मिली. शाकिब ने वेस्टइंडीज की पहली पारी में तीन विकेट लिए थे. मेहदी को प्लेयर ऑफ द मैच और शाकिब को प्लेयर ऑफ द सीरीज के पुरस्कार से नवाजा गया.

You Might Also Like