फ्रांस पुलिस की एक टीम पेरिस अटैक की जांच के सिलसिले थोडुपुझा निवासी सुहाहानी हाजा मोइद्दीन से पूछताछ के लिए केरल पहुंची है

फ्रांस पुलिस की एक टीम पेरिस अटैक की जांच के सिलसिले थोडुपुझा निवासी सुहाहानी हाजा मोइद्दीन से पूछताछ के लिए केरल पहुंची है

फ्रांस पुलिस की एक टीम पेरिस अटैक की जांच के सिलसिले थोडुपुझा निवासी सुहाहानी हाजा मोइद्दीन से पूछताछ के लिए केरल पहुंची है. उस पर संदेह है कि उसने आतंकी संगठन आईएसआईएस से हथियार चलाने सशस्त्र प्रशिक्षण लिया था.

फ्रांसीसी पुलिस टीम आज उन्हें वियूर केंद्रीय जेल में उससे पूछताछ करेगी. इस पूछताछ में विदेशी पुलिस की मदद एनआईए करेगी. पेरिस में साल 2015 में हुए आतंकी हमले में करीब 130 लोगों की मौत हुई थी.

यह पहला मौका है, जब यूरोपियन जांच एजेंसी की अपने यहां हुए आतंकी हमले के सिलसिले में भारत में मौजूद एक कैदी से पूछताछ करने आई है. इस आतंकी हमले केस की जांच के लिए फ्रेंच पुलिस भारत में तीन दिन तक रहेगी.

दरअसल, आतंकियों ने 13 नवंबर 2015 को पेरिस में तीन जगह बड़े हमलों का अंजाम दिया था. इस हमले में कम से कम 130 लोगों की मौत हो गई थी और 350 से ज्यादा लोग घायल हुए थे. 

इस दौरान सबसे घातक हमला बातेक्लां थिएटर और कांसर्ट हाल पर हुआ था, जहां आतंकवादियों ने 100 से ज्यादा लोगों को घेरकर गोलियों से भून डाला था. यहां 80 से ज्यादा लोगों की जान गई थी. इसके अलावा दो रेस्तरां और एक स्टेडियम को निशाना बनाया गया था और इस दौरान गोलीबारी के साथ बम धमाके भी किए गए थे.

You Might Also Like