आइएमए के खेत्रपाल सभागार में बुधवार को अवॉर्ड डिस्ट्रीब्यूशन सेरेमनी का आयोजन किया गया

आइएमए के खेत्रपाल सभागार में बुधवार को अवॉर्ड डिस्ट्रीब्यूशन सेरेमनी का आयोजन किया गया

 आइएमए के खेत्रपाल सभागार में बुधवार को अवॉर्ड डिस्ट्रीब्यूशन सेरेमनी का आयोजन किया गया। अकादमी के कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल एसके झा ने जेंटलमैन कैडेट्स को विभिन्न मेडल, ट्रॉफी और सर्टिफिकेट प्रदान कर सम्मानित किया। इस दौरान उन्होंने भावी अफसरों को देश की आन, बान और शान की रक्षा के मूलमंत्र दिए। उन्होंने भावी सैन्य अफसरों को हर परिस्थिति का सामना करने, बदलाव को आत्मसात करने व तकनीक में दक्षता हासिल करने की सीख दी।

इन्हें मिला व्यक्तिगत उत्कृष्टता सम्मान

  • पैराशूट रेजीमेंट मेडल : अतुल तिवारी
  • सिख रेजीमेंट सिल्वर मेडल : अर्जुन ठाकुर
  • डोगरा रेजीमेंट एंड स्काउट विंग मेडल : भाष्कर नारायण
  • मराठा लाइ मेडल : भाष्कर नारायण
  • सिख लाइ सिल्वर मेडल : मयूर नागरकोटी
  • कॉर्प्स ऑफ सिग्नल्स मेडल : ध्रुव चौधरी
  • 9 जीआर मेडल : गुरवंश सिंह गोसाल
  • राजपूत रेजीमेंट सिल्वर मेडल : गुरवंश सिंह गोसाल
  • ब्रिगेड ऑफ द गार्डस मेडल : गुरवंश सिंह गोसाल
  • राजपुताना राइफल मेडल : गुरवीर सिंह तलवार 
  • 8 जीआर मेडल : अतुल तिवारी
  • जाट रेजीमेंट सिल्वर मेडल : भाष्कर नारायण गोगोई
  • एएससी मेडल : अभिराज हजेला
  • ग्रेनेडियर्स ट्राफी : राजेन्द्र सिंह
  • 5 जीआर मेडल : अभिनव गुरुंग

रोलिंग ट्राफी (व्यक्तिगत)

  • राजा ऑफ फरीदकोट ट्राफी : राजेंद्र सिंह
  • मेजर शैतान सिंह ट्राफी : राजेंद्र सिंह
  • डक्कन होर्स ट्राफी : अब्दुल अजीज
  • 8वां कोर्स री यूनियन ट्राफी : एम साईं कृष्ण कार्तिक
  • मोटिवेशन ट्राफी: भाष्कर नारायण गोगोई

इन कैडेट को मिला बुक प्राइज अवार्ड   

  • एम एंड डी क्लब : बृजेश पाल सिंह
  • जर्नलिज्म क्लब : चिराग शर्मा
  • एकेडमिक्स : नयन चौधरी

347 कैडेट बनेंगे भारतीय सेना का हिस्सा

भारतीय सैन्य अकादमी में शनिवार को होने वाली पासिंग आउट परेड में देश-विदेश के 427 जेंटलमैन कैडेट हिस्सा लेंगे। इनमें 347 कैडेट भारतीय सेना में अफसर बनेंगे। जबकि मित्र देशों की सेना को 80 सैन्य अफसर मिलेंगे। इन भावी सैन्य अफसरों ने मंगलवार को डिप्टी कमाडेंट परेड में शिरकत की। अकादमी के उप समादेशक व मुख्य प्रशिक्षक मेजर जनरल जेएस नेहरा ने परेड की सलामी ली। 

मुख्य पासिंग आउट परेड से पहले पासिंग आउट बैच के कैडेटों को डिप्टी कमाडेंट परेड व कमाडेंट परेड में शिरकत करनी होती है। इसी क्रम में मंगलवार सुबह अकादमी के चेटवुड भवन के सामने ड्रिल स्क्वायर पर पासिंग आउट बैच के जेंटलमैन कैडेटों ने आइएमए गीत की धुन पर कदमताल किया। उन्होंने आइएमए के उप समादेशक मेजर जनरल नेहरा से विदाई ली। इससे पहले उप समादेशक ने बतौर निरीक्षण अधिकारी परेड का निरीक्षण किया। परेड के दौरान जेंटलमैन कैडेट जोश व जज्बे से लबरेज दिखे। 

उप समादेशक ने अकादमी में सैन्य प्रशिक्षण के दौरान श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले जेंटलमैन कैडेटों को रिहर्सल के तौर पर स्वॉर्ड ऑफ ऑनर के साथ ही गोल्ड, सिल्वर व ब्राज मेडल प्रदान कर सम्मानित किया। पासिंग आउट बैच के जेंटलमैन कैडेटों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि बतौर सैन्य अधिकारी सेना में शामिल होने जा रहे कैडेटों को सैन्य परंपराओं का निवर्हन कर आगे बढ़ना होगा। 

आइएमए से कड़ा प्रशिक्षण प्राप्त कर अब वह विभिन्न यूनिट व रेजिमेंट का हिस्सा बनेंगे। जहां उनकी क्षमताओं को और तराशा जाएगा। ताकि वह अधिक जिम्मेदारी व कुशलता के साथ जवानों का नेतृत्व करें। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना का हिस्सा बनने जा रहे युवा अफसर ऐसे आयाम स्थापित करें कि हर एक जवान गर्व से उनकी तरफ देखे।

You Might Also Like