प्रयागराज के लोगों को सरकार ने दी ये बड़ी खुशखबरी

प्रयागराज के लोगों को सरकार ने दी ये बड़ी खुशखबरी

 प्रदेश की योगी सरकार और प्रयागराज प्रशासन ने शहर के लोगों को खास तरह की खुशखबरी दी है. अब यहां के लोग कुंभ के दौरान शादी कर पाएंगे. दरअसल पिछले दिनों प्रशासन ने यहां अगले साल होने वाले कुंभ मेले के दौरान शाही स्‍नानों के एक दिन पहले और एक दिन सभी शादी समारोहों पर रोक लगा दी थी. लेकिन अब प्रशासन ने यह फैसला वापस ले लिया है. इससे यहां के लोगों में खासी खुशी देखने को मिल रही है. माना जा रहा है कि प्रयागराज प्रशासन ने अपने फैसले पर यूटर्न योगी सरकार के दखल के बाद लिया है.

दरअसल संगम नगरी प्रयागराज में 2019 में जनवरी से कुंभ मेले का आयोजन हो रहा है. इसके लिए प्रशासन ने शहर के सभी मैरिज हॉल और गेस्‍ट हाउस को फरमान भेजा था कि कुंभ के दौरान स्‍नान पर्वों के दौरान कोई भी शादी समारोह न किया जाए. इसे लेकर यहां के लोगों में बेहद नाराजगी थी.

अफसरों का कहना है कि प्रमुख स्नान पर्वों के दौरान भी शादी घरों या बैंक्‍वेट हॉल में अब शादियां हो सकेंगी. हालांकि बाराती अब भी सड़कों पर न तो ठुमके लगाएंगे और न ही गाड़ियों पर पार्किंग हो सकेगी. इस मामले में प्रयागराज के डीएम सुहास एलवाई का कहना है कि शादियों पर रोक पहले भी नहीं थी. शादी घरों को नोटिस भेजा गया था, वह आदेश नहीं, बल्कि एडवाइजरी थी. जो भी लोग गेस्ट हाउस या बैंक्‍वेट हाल के अंदर शादी की रस्म अदा करना चाहेंगे, वह कर सकेंगे. शादियों या किसी भी दूसरे आयोजनों पर कोई मनाही नहीं है. हालांकि जिन रास्तों पर यातायात प्रतिबंधित रहेगा, उस पर किसी वाहन को शादी-ब्याह के नाम पर नहीं छोड़ा जाएगा, इसलिए लोग इस बारे में खुद ही फैसला ले सकते हैं.

दरअसल प्रयागराज प्रशासन ने चुनिंदा शादी घरों में शादी ब्याह के आयोजन पर जो पाबंदी लगाई थी, उस पर काफी कोहराम मचा था. आम नागरिकों के साथ ही साधु संतों की सबसे बड़ी संस्था अखाड़ा परिषद ने भी इस मामले में अपना विरोध जताया था. मंगलवार को योगी सरकार के नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना के प्रयागराज आने पर उनसे भी इस मामले में शिकायत की गई थी.

मंत्री के दखल पर ही अफसरों ने इस मामले में यू टर्न लेते हुए अब शादियों पर कोई रोक नहीं होने की बात कही है. हालांकि अफसरों ने सीधे तौर पर फैसला वापस लेने के बजाय गोल-मोल जवाब दिया है. उनका कहना है कि पहले भी पाबंदी नहीं थी और वह सिर्फ एडवाइजरी थी. इसमें भी अब नरमी बरती गई है और अब शादी घरों के अंदर शादी व दूसरे आयोजन नहीं किये जा सकेंगे. प्रशासन द्वारा लिए गए फैसले पर रोक लगाने के बाद मैरिज हॉल मालिक काफी खुश नजर आ रहे हैं मैरिज हॉल मालिको का कहना है कि शादियों पर लगी रोक हटने के बाद अब उनको बड़ी राहत मिली है.

You Might Also Like