लालू की रिहाई के लिए अब दिल्ली कूच करेंगे तेजप्रताप, PM मोदी को ले कही ये बात

लालू की रिहाई के लिए अब दिल्ली कूच करेंगे तेजप्रताप, PM मोदी को ले कही ये बात

राष्‍ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव इन दिनों चारा घोटाला में सजा पाकर जेल में हैं। अब उनके बेटे व पूर्व स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री तेजप्रताप यादव ने पिता की रिहाई के लिए दिल्‍ली चलो का नारा दिया है। तेजप्रताप ने कहा है कि उनके पिता को झूठे मुकदमे में फंसाया गया है। लालू की रिहाई को लेकर केंद्र की पीएम मोदी सरकार पर दबाव बनाने के लिए तेजप्रताप ने नौ जनवरी को दिल्ली चलने की अपील की है।

चारा घोटाला में सजा पाकर जेल में हैं लालू

विदित हो कि लालू प्रसाद यादव के मुख्‍यमंत्री रहते तत्‍कालीन बिहार (झारखंड भी शामिल) में चारा घोटाला हुआ था। इसमें लालू प्रसाद को दोषी पाया गया। रांची की सीबीआइ अदालत के फैसले के अनुसार लालू फिलहाल रांची के होटवार जेल में सजा काट रहे हैं। इस बीच तबीयत खराब हो जाने के कारण उन्‍हें रांची के ही रिम्‍स (अस्‍पताल) में भर्ती कराया गया है।

पीएम मोदी सरकार ने लालू को फंसाया

तेजप्रताप यादव ने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार सीबीआइ का दुरुपयोग कर राजनीतिक विरोधियों को फंसा रही है। उसने लालू यादव को भी झूठे मामलों में फंसाया है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नरेंद्र मोदी सरकार सीबीआइ को हथियार बना राजनीतिक साजिश कर रही है। यह बात सीबीआइ के निदेशक के बयान से भी साफ हो चुका है।

अब जमानत रोकने की हो रही साजिश

तेजप्रताप ने कहा कि अब भाजपा राजनीतिक प्रभाव का इस्तेमाल कर लालू प्रसाद की जमानत नहीे होने देने की भी साजिश में जुट गई है। भाजपा जानती है कि चुनाव के समय लालू के बाहर आने से भाजपा विरोधी ताकतें मजबूत हो जाएंगी। लेकिन अब यह लंबे समय तक नहीं चलने वाला है। तेजप्रताप ने कहा कि वे दिल्ली जाकर लालू की रिहाई के लिए प्रबंध करेंगे।

बिहार में लगता डर

तेजप्रताप यादव ने बिहार की नीतीश सरकार को भी जमकर घेरा। कहा कि बिहार में कानून का राज नहीं रहा। आलम यह है कि वे खुद भी आधी रात में सुरक्षाकर्मियों के रहने के बावजूद कहीं आने-जाने से डरने लगे हैं। तेजप्रताप ने बिहार में ध्‍वस्‍त शिक्षा व स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था की भी आलोचना की।

पत्‍नी ऐश्‍वर्या से तलाक की अर्जी दाखिल करने के बाद तेजप्रताप यादव बीते कुछ दिनों राजनीति से दूर रहे थे। इसके बाद वे एक बार फिर राजनीतिक गतिविधियों में सक्रिय हैं। वे लगातार जनता दरबार लगा रहे हैं तथा पार्टी कार्यालय में भी बैठ रहे हैं।

You Might Also Like