बुमराह ने हैरिस को वैसे ही फंसाकर आउट किया जैसे कमिंस ने विहारी को किया

बुमराह ने हैरिस को वैसे ही फंसाकर आउट किया जैसे कमिंस ने विहारी को किया

 टीम इंडिया के ऑस्ट्रेलिया दौरे के मेलबर्न टेस्ट के तीसरे दिन टीम इंडिया की पहले सत्र में शानदार शुरुआत हुई. पहले दिन के पांचवे ओवर में इशांत शर्मा ने एरोन फिंच का विकेट निकालने में कामयाबी हासिल की. इसके बाद जसप्रीत बुमराह ने पहले गेंद मार्कस हैरिस के हेलमेट पर मारी फिर उन्हें बाउंसर पर ही आउट किया. भारत की पारी में हनुमा विहारी भी ऐसे ही आउट हुए थे. विहारी को पैट कमिंस ने अपने जाल में ऐसे ही फंसाया था.

ऑस्ट्रेलिया की पारी के 14वें ओवर में जसप्रीत बुमराह ने एक बाउंसर फेंकी जिसे डक करने के बजाए हैरिस ने हुक शॉट लगाया लेकिन गेंद सीधे फाइन लेग पर खड़े इशांत शर्मा के हाथों में चली गई और हैरिस को जाना पड़ा. हैरिस ने 35 गेंदों पर दो चौकों के साथ 22 रन बनाए

इससे पहले मैच के दूसरे दिन के अंतिम ओवरों और ऑस्ट्रेलिया की पारी के चौथे ओवर की दूसरी गेंद पर ही बुमराह ने हैरिस को एक तेज बाउंसर मारी थी जो सीधे उनके हेलमेट पर जा लगी थी. हैरिस को तब फिजियो को मैदान पर बुलाना पड़ा था.

हैरिस को बाउंसर पर असहज करने का फायदा बुमराह को ऑस्ट्रेलिया की पारी के 14वें ओवर में मिला. इस बार हैरिस ने बुमराह की बाउंसर को हुक करने का मन बनाया और वे थर्ड मैन पर लपक लिए गए और हैरिस के रूप में के 36 रन के स्कोर पर ऑस्ट्रेलिया का दूसरा विकेट भी गिर गया. इस सीरीज में हैरिस को बाउंसर डक करने में काफी मुश्किल हो रही है. पर्थ टेस्ट में भी उनके हेलमेट पर गेंद लगी थी.

हैरिस के आउट होने का तरीका करीब करीब वैसा ही था जैसे भारतीय पारी में पैट कमिंस ने हनुमा विहारी को आउट किया था. पहले कमिंस की बाउंसर हनुमा विहारी के हेलमेट पर लगी, उसके 5 ओवर ही बाद 19वें ओवर में पैट कमिंस ने एक और बाउंसर विहारी को फेंककर उन्हें आउट कर दिया. विहारी बाउंसर को डक करने के बजाए उसे खेलने की कोशिश कर बैठे. गेंद उनके ग्लब्स से लगकर उछली और दूसरी स्लिप पर खड़े एरोन फिंच ने आसान कैच पकड़ लिया जिससे उन्हें पवेलियन वापस जाना पड़ा.

टीम इंडिया ने अपनी पारी 443 रन बनाकर घोषित की थी

टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 443 रन बनाकर घोषित कर दी. दूसरे दिन चेतेश्वर पुजारा और कप्तान विराट कोहली के बीच तीसरे विकेट के लिए हुई 170 रनों की साझेदारी ने भारत को मैच के दूसरे दिन मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया. कोहली 82 रन बनाकर दूसरे सत्र में जल्दी ही आउट हो गेए. कोहली ने अपनी पारी में 204 गेंदों का सामना करते हुए नौ चौके लगाए. पुजारा भी ज्यादा देर तक क्रीज पर टिक नहीं पाए 106 रनों की शानदार पारी खेलते हुए 319 गेंदों का सामना कर आउट हुए.

You Might Also Like