ऐसे उड़ रहा है ‘ठाकरे’ के डायलॉग का मजाक

ऐसे उड़ रहा है ‘ठाकरे’ के डायलॉग का मजाक

शिवसेना प्रमुख बाला साहेब ठाकरे के जीवन पर फिल्म ‘ठाकरे’ का ट्रेलर 26 जनवरी को रिलीज किया गया. इस ट्रेलर के सामने आने के बाद से ही इसके डायलॉग्स पर कई कंट्रोवर्सी शुरू हो चुकी हैं. वहीं कुछ मजेदार मीम्स लोगों को लोटपोट भी कर रहे हैं. नवाजुद्दीन सिद्धीकी के एक डायलॉग को लोग अपने-अपने स्टायल से सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं.

फिल्म तीन संवादों के चलते सेंसर में अटकी पड़ी है. तो साउथ इंडियंस के लिए नफरतफैलाने का आरोप भी फिल्म पर लगाया जा रहा है. फिल्म का ट्रेलर जमकर ट्रोल किया जा रहा है तो इसी बीच ठाकरे फिल्म का एक डायलॉग काफी वायरल हो रहा है. आप भी देखिए ऐसे ही कुछ मजेदार मीम्स… 

सभी ने नवाजुद्दीन के डायलॉग ‘एक संगठन की शुरुआत करनी होगी’ को अपनी-अपनी प्रॉब्लम्स से रिलेट किया है.

कोई इसे गोवा जाने के प्लान से जोड़ता नजर आ रहा है तो कोई दो साल से रुके इंक्रीमेंट पर संगठन बनाने की बात कर रहा है.

इस फिल्म के कई सीन ऐसे हैं जिनके कारण फिल्म को नफरत की राजनीति से प्रभावित बताया जा रहा है. लेकिन जिन्हें जिंदगी को लाइट करना आता है वह हर जगह हंसने हंसाने की वजह खोज लेते हैं.

फिल्म ‘ठाकरे’ जिसमें नवाजुद्दीन सिद्धीकी शिवसेना प्रमुख बाला साहेब ठाकरे की भूमिका निभा रहे हैं. फिल्म इस वजह से भी काफी चर्चा में है क्योंकि इसमें नवाजुद्दीन का लुक बाला साहेब ठाकरे से इतना मिलता जुलता लग रहा है जैसे असली बाला साहेब सामने हैं.

आपको बता दें कि एक दौर में महाराष्ट्र की राजनीति को गहरे तक प्रभावित करने वाले बाला साहब ठाकरे कार्टूनिस्ट भी थे. उन्होंने समाजिक कार्यकर्ता के रूप में अपने करियर की शुरुआत की थी और बाद में शिवसेना का गठन किया. बाला साहब ठाकरे के बारे में कहा जाता है कि कभी किसी पद पर रहे बिना ही उन्होंने महाराष्ट्र की राजनीति को लंबे समय तक आकार दिया. वर्ष 2012 में बाला साहब ठाकरे का निधन हो गया था. ये फिल्म 25 जनवरी, 2019 को हिंदी और मराठी भाषाओं में रिलीज होगी.

You Might Also Like