BJP MLC ने नोटबंदी के वक्‍त लिए थे पांच करोड़

BJP MLC ने नोटबंदी के वक्‍त लिए थे पांच करोड़

बिहार के औरंगाबाद में हुए बड़े नक्‍सली हमले को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। नक्‍सलियों ने हमले की जिम्‍मेदारी लेते हुए कहा है कि उनके निशाने पर भाजपा विधान पार्षद (एमएलसी) राजन सिंह थे। नक्‍सलियों का आरोप है कि एमएलसी ने नोटबंदी के दौरान उनसे पांच करोड़ रुपये बदलने के लिए लिए थे, जो नही लौटाए। नक्‍सलियों ने एमएलसी की चल-अचल संपत्ति जब्‍त व ध्‍वस्‍त करने का निर्णय लिया है।
विदित हो कि करीब ढ़ाई सौ नक्‍सलियों ने एमएलसी के घर पर हमला कर कोहराम मचा दिया था। इस दौरान एमएलसी नहीं मिले। औरंगाबाद के एसपी ने भी कहा है कि नक्‍सलियों के निशाने पर एमएलसी थे, वे उनका का उड़ा देते अगर पुलिस समय पर नहीं पहुंचती।
हमले के दौरान नक्‍सलियों ने एमएलसी के चाचा को भून डाला था। साथ ही बसों व ट्रैक्‍टरों सहित अनेक वाहनों को फूंक दिया। साथ ही एक सामुदायिक भवन को उड़ा दिया तथा कुछ घरों में आग लगा दी।

नक्‍सलियाें ने ली हमले की जिम्‍मेदारी
औरंगाबाद के सुदी बिगहा गांव में शनिवार की देर रात विधान पार्षद को निशाना बनाने पहुंचे नक्सलियों ने आठ वाहनों में आग लगाने व एक ग्रामीण की हत्या की जिम्मेवारी ले ली है। प्रतिबंधित नक्‍सली संगठन भाकपा माओवादी ने इस संबंध में पर्चा फेंक कर कहा है इस घटना को उनलोगों ने ही अंजाम दिया है।

नक्‍सलियों का आरोप है कि एमएलसी राजन कुमार सिंह ने नोटबंदी के दौरान बदलने के लिए पांच करोड़ रुपये लिए थे, जो नही लौटाए। साथ ही लेवी के भी दो करोड़ रुपये बकाया हैं। पर्चा के अनुसार नक्‍सलियों ने एमएलसी की चल-अचल संपत्ति जब्‍त व ध्‍वस्‍त करने का निर्णया लिया है।

एसपी बोले: एमएलसी का घर उड़ाने आए थे नक्‍सली

औरंगाबाद के एसपी ने बताया कि हमले में कुख्यात नक्सली संदीप यादव, विवेक यादव, विनय यादव और संजीत का हाथ है। पुलिस के मौके पर पहुंचने के कारण नक्सली एमएलसी का घर नहीं उड़ा सके। उनका मकसद घर को उड़ा देने का था। घटनास्थल से भारी मात्रा में विस्फोटक, कोडेक्स वायर, बम ब्लास्ट करने वाले तार, सिलेंडर व केन बम के टुकड़े बरामद किए गए हैं।

घटना पर डालते हैं एक नजर 

करीब ढाई सौ नक्सलियों ने भाजपा एमएलसी राजन कुमार सिंह के पैतृक गांव देव थाना के सुदी बिगहा में शनिवार की रात्रि जमकर उत्पात मचाया। नक्सलियों ने न सिर्फ एमएलसी के चाचा 65 वर्षीय नरेंद्र प्रसाद सिंह की हत्या कर दी, बल्कि घर में घुसकर जमकर कोहराम मचाया।
नक्सलियों ने पूरा गांव को कब्जे में लेकर एमएलसी के दरवाजे पर नवनिर्मित दो मंजिला सामुदायिक भवन सिलेंडर एवं केन बम लगाकर क्षतिग्रस्त कर दिया तथा एमएलसी एवं उनके चाचा के घर जमकर लूटपाट की। नक्सलियों ने एमएलसी के दरवाजे पर खड़े तीन ट्रैक्टर को भी फूंक दिए। सुदी बिगहा गांव में उत्पात मचाने के बाद नक्सलियों ने देव गोदाम पर खड़े अरुण कुमार सिंह, सुनील कुमार सिंह के चार यात्री बसों सहित कुछ छोटे वाहनों को भी फूंक दिया। बस मालिक के घर में चल रहे मोटर पार्ट्स की दुकान को भी आग के हवाले कर दिया। बस में लगी आग की लपट से कृष्णा शर्मा की फर्नीचर दुकान समेत तीन दुकानें जलकर राख हो गईं।

इस दौरान नक्‍सलियों की गोलीबारी में एमएलसी राजन कुमार सिंह व एक अन्‍य को गोली मार दी गई। उनमें एमएलसी के चाचा की मौत हो गई। औरंगाबाद एएसपी अभियान राजेश कुमार सिंह ने घटना के बाद नक्सली वारदात की पुष्टि करते हुए बताया कि देर रात से सुबह तक नक्‍सलियों से सुरक्षा बलों की मुठभेड़ चली। इसके बाद से आरंभ काॅम्बिंग ऑपरेशन जारी है।

एमएलसी का नक्‍सलियों से कनेक्‍शन से इनकार, उठाए सुशासन पर सवाल 

घटना के बाद भाजपा एमएलसी राजन कुमार सिंह ने नक्‍सलियों से अपने कनेक्‍शन से इनकार किया है। उन्‍होंने नक्‍सलियोंं से नोट बदलने के लिए पांच कराेड़ लेने से भी इनकार किया। घटना के लिए सरकार व प्रशासन को जिम्‍मेदार ठहराते हुए सुशासन पर सवाल उठाया। उन्‍होंने कहा कि जब सत्‍ताधारी दल के विधायक-विधान पार्षद सुरक्षित नहीं तो आम आदमी कैसे सुरक्षित होगा?

जदयू ने राजद का हाथ होने का लगाया आरोप

सत्‍ताधारी जदयू के प्रवक्‍ता संजय सिंह ने यह कहकर सनसनी फैला दी कि इस घटना में राजद का हाथ है। उन्‍होंने कहा कि ऐसी घटनाएं राजद के इशारे पर ही होती हैं। सरकार जांच कर रही है। घटना सरकार को बदनाम करने की नीयत से की गई है। भाजपा विधायक नितिन नवीन व विधायक संजीव चौरसिया ने घटना को दुखद बताया है।

राजद का सवाल- नीतीश बताएं, कहां है सुशासन

आरोपों को लेकर राजद का जवाब भी आया। राजद के विजय प्रकाश ने कहा कि जब सुशासन हाथ से निकल जाता है तो ऐसे ही बेबुनियाद आरोप लगाए जाते हैं। उन्‍होंने कानून के राज पर सवाल उठाए।

You Might Also Like