अश्विनी चौबे ने महागठबंधन को कहा मेढ़क, कांग्रेस बोली- हाथी चले बाजार, कुत्‍ता भूंके हजार

अश्विनी चौबे ने महागठबंधन को कहा मेढ़क, कांग्रेस बोली- हाथी चले बाजार, कुत्‍ता भूंके हजार

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने विवादित बयान दिया है। उन्‍होंने ‘महागठबंधन’ को ‘महाठगबंधन,’ मेढ़क व दमा का मरीज बताया है। यह भी कहा कि उसे पाकिस्‍तान बॉर्डर पर ले जाकर हिंद महासागर में डुबो देंगे। अश्विनी चौबे के इस बयान पर सियासत गर्म हो गई है। जवाब में राजद ने कहा हैकि भाजपा वालों का मानसिक संतुलन गड़बड़ा गया है। कांगेस ने भी ‘हाथी चले बाजार…’ वाला मुहावरा देकर पलटवार किया। 

अश्विनी चौबे ने कही ये बात 
केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री व भाजपा नेता अश्विनी चौबे अपने विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं। इस बार उन्‍होंने विपक्षी ‘महागठबंधन’ को ‘महाठगबंधन’ बताया है। उन्‍होंने कहा कि ठगों का यह बंधन जनता को ठगने में लगा है। यह मेढ़क की तरह है। मेढ़क टरटराता रहता है और समझता है कि दुनिया उसपर ही टिकी है। महाठगबंधन के नेता भी ऐसा ही समझते हैं। आगामी लोकसभा चुनाव का ओर इशारा करते हुए कहा कि उनके टरटराने का भी समय आ गया है। 

अश्विनी चौबे इतने पर ही नहीं रुके। उन्‍होंने महागठबंधन को दमा का मरीज भी बता दिया। साथ ही यह भी कहा कि उसे पाकिस्‍तान बॉर्डर पर ले जाकर डुबो देना है। 

अश्विनी चौबे ने कहा कि अगले चुनाव में फिर से प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी के नेतृत्व में राजग की सरकार बनेगी। 

बयान पर गरमाई सियासत 
अश्विनी चौबे के विवादित बयान पर सियासत गरमा गई है। राजद व कांग्रेस ने इसकी आलोचना की है तो भाजपा ने अपने नेता का बचाव किया है। 

राजद बोला- भाजपा को सात समंदर पार कर देगी जनता: राजद प्रवक्‍ता मृत्‍युंजय तिवारी ने कहा है कि भाजपा वालों का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है। उन्‍हें पता चल गया है कि क्‍या होने वाला है, इसलिए बौखलाहट में ऐसे बयान दे रहे हें। जनता आगामी चुनाव में भाजपा को सात समुंदर पार कर देगी। जहां तक अश्विनी चौबे की बात है, वे क्‍या हैं, देश की जनता जानती है। 

मृत्‍युंजय तिवारी ने कहा है भाजपा वाले आग लगाकर तापना चाहता हैं, लेकिन ऐसा होने नहीं जा रहा है। लालू को मानने वाले देश-दुनिया में करोड़ों लोग हैं। महागठबंधन बिहार की सभी 40 सीटों पर जीत दर्ज करेगी। 

कांग्रेस ने भी पलटवार में दिया विवादित बयान: कांग्रेस के प्रवक्‍ता प्रेमचंद मिश्र से कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार में अश्विची चौबे आर गिरिराज सिंह जैसे नेताओं की भाषा अमर्यादित रही है। एक हिंदी मुहावरा की चर्चा करते हुए उन्‍होंने कहा, ‘हाथी चले बाजार, कुत्‍ता भूंके हजार।’ 

भाजपा ने किया अश्विनी चौबे का बचाव: भाजपा के प्रवक्‍ता निखिल आनंद ने अश्विनी चौबे का बचाव किया। कहा कि लोकाचार में बोलियों का भी महत्‍व है। हिंद महासागर में डुबोने का मतलब यह नहीं कि वहो लेजाकर डुबो दिया जाएगा। महगठबंधन ‘ज्‍यादा योगी मठ उजाड़’ है। उसे कुछ हासिल नहीं होने वाला है। उसके नेता तो जेल जाकर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद से सीट शेयरिंग की चर्चा कर रहे हैं। निखिल ने राजद पर तंज कसते हुए कहा कि वह एक परिवार की प्राइवेट लिमिटेड पार्टी है।

You Might Also Like