हाईकोर्ट का आदेश मिलते ही शासन से किया तबादला निरस्त

हाईकोर्ट का आदेश मिलते ही शासन से किया तबादला निरस्त

हाईकोर्ट आदेश के अनुपालन में शासन ने शुक्रवार को आईपीएस डॉ. मंजूनाथ टीसी का हरिद्वार से एसपी चमोली के पद पर किया गया स्थानांतरण निरस्त कर दिया। उनकी वापसी हरिद्वार में पुराने पद एसपी यातायात पर की गई है। पुलिस मुख्यालय ने नई एसआईटी के आदेश को निरस्त करते हुए पुरानी एसआईटी को ही बरकरार रखा है। मंजूनाथ शुक्रवार शाम को एसपी चमोली का प्रभार सीओ को सौंपने के बाद हरिद्वार के लिए रवाना हो गए। 

शासन ने आठ जनवरी को हरिद्वार के एसपी यातायात और छात्रवृत्ति घोटाले की जांच को बनी एसआईटी के प्रभारी डॉ. मंजूनाथ टीसी को चमोली का पुलिस अधीक्षक बनाकर भेजा था। साथ ही घोटाले की जांच को आईजी संजय गुंज्याल की अगुवाई में नई एसआईटी भी गठित कर दी गई थी। हाईकोर्ट ने नौ जनवरी को छात्रवृत्ति घोटाले की सुनवाई के दौरान डॉ. मंजूनाथ टीसी के तबादले को निरस्त कर दिया था। नई एसआईटी को भंग कर मंजूनाथ वाली की एसआईटी से जांच कराने के आदेश दिए थे। आशंकाआें के बीच मंगलवार शाम को मंजूनाथ ने एसपी चमोली का पदभार ग्रहण कर लिया था। 

शुक्रवार को हाईकोर्ट के आदेश की कॉपी मिलते ही शासन ने उनका चमोली के लिए किया गया स्थानांतरण रद कर दिया है। उन्हें वापस हरिद्वार के एसपी यातायात पद का कार्यभार ग्रहण करने के आदेश दिए गए हैं। तीन दिन की कप्तानी करने के बाद शुक्रवार शाम को डॉ. मंजूनाथ ने एसपी चमोली का कार्यभार सीओ मिथलेश कुमार को सौंपा और हरिद्वार के लिए रवाना हो गए। इधर पुलिस मुख्यालय ने नई एसआईटी गठन का आदेश भी निरस्त कर दिया है। डॉ. मंजूनाथ के नेतृत्व वाली एसआईटी से ही छात्रवृत्ति घोटाले की जांच कराने का आदेश एक बार फिर नए सिरे से जारी कर दिया गया। 

You Might Also Like