अफगानिस्तान के हालातों पर चिंतित है अमेरिका

अफगानिस्तान के हालातों पर चिंतित है अमेरिका

अमेरिकी शांतिदूत जलमे खलीलजाद ने शनिवार को कहा कि अफगानिस्तान में शांति बहाल करने के लिए अमेरिका सभी अफगान पक्षों की तर्कपूर्ण चिंताओं और मुद्दों का निवारण करने को तैयार है. सितंबर में शांतिदूत नियुक्त होने के बाद से खलीलजाद ने तालिबान, अफगान अधिकारियों और पाकिस्तान के राजनीतिक और सैन्य नेतृत्व सहित सभी पक्षों से भेंट कर पड़ोसी देश अफगानिस्तान में लंबे समय से चल रहे युद्ध का अंत खोजने का प्रयास किया है.

आधा अफगानिस्तान तालिबान के कब्जे में है

फिलहाल करीब आधा अफगानिस्तान तालिबान के कब्जे में है और 2001 में शुरू हुए अमेरिकी हमले के बाद से वह सबसे मजबूत स्थिति में भी है. खलीलजाद ने शनिवार को ट्वीट किया, ‘‘मुझे समझ आ रहा है कि लोगों को इसकी चिंता है कि अमेरिका लड़ने और बातचीत करने दोनों के लिए तैयार है. मैं स्पष्ट कर दूं…अमेरिका शांति चाहता है.’’

युद्ध की जल्द समाप्ति जरूरी

उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में युद्ध की जल्द समाप्ति जरूरी है, ‘‘लेकिन अब भी शांति कायम करने के लिए हमारा लड़ना जरूरी है.’’ खलीलजाद फिलहाल पाकिस्तान दौरे पर हैं. यहां उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा से भेंट कर अफगानिस्तान में शांति बहाली पर बातचीत की.

You Might Also Like