लखनऊ, पटना समेत देश के कई शहरों पर आयकर विभाग की बड़ी नजर

लखनऊ, पटना समेत देश के कई शहरों पर आयकर विभाग की बड़ी नजर

उत्तर प्रदेश, बिहार समेत देश के कई शहरों में कर संग्रह में आई गिरावट ने आयकर विभाग को चौंकन्ना कर दिया है। विभाग ने लखनऊ, कानपुर और पटना समेत कई शहरों में छापेमारी की तैयारी कर ली है। सूत्रों के मुताबिक आयकर नहीं भरने वालों पर विभाग न सिर्फ सख्त कदम उठाएगा बल्कि आपराधिक मामला भी दर्ज करेगा। फरवरी के आखिर में विभाग टैक्स चोरों के खिलाफ अपनी मुहिम शुरू कर सकता है।

‘हिन्दुस्तान’ को मिली जानकारी के मुताबिक आयकर विभाग के पास अलग-अलग शहरों के आंकड़े आ गए हैं। आंकड़ों में अहमदाबाद, हैदराबाद, लखनऊ, भोपाल, कानपुर, पटना और मुंबई जैसे शहरों में टैक्स वसूली में सबसे ज्यादा गिरावट देखने को मिली है।

देशभर में गिरावट

शहर गिरावट
पटना 75
लखनऊ 60
जयपुर 45
हैदराबाद 33
भोपाल 25
कानपुर 12
मुंबई 03

आयकर विभाग का अगला कदम
सूत्रों के मुताबिक आयकर विभाग आने वाले दिनों में बड़े पैमाने पर वसूली के लिए कदम उठाएगा। इसके लिए विभाग के अधिकारी उन जगहों पर सर्वे करेंगे, जहां मोटी रकम बकाया होने की आशंका है। साथ ही जरूरत पड़ने पर टैक्स न चुकाने वाले लोगों की संपत्ति जब्त कर उसे बेचने का भी कदम उठाया जा सकता है। आयकर विभाग ऐसे लोगों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने की भी पूरी तरह तैयारी में है, जिन्होंने जानबूझकर टैक्स नहीं दिया है।

आखिरी चेतावनी
पिछले हफ्ते ही आयकर विभाग ने टैक्स की चोरी करने वालों को आखिरी चेतावनी दी थी। विभाग ने कहा कि ‘नॉन फाइलर्स मॉनिटरिंग सिस्टम’ के जरिए तमाम आंकड़े उनकी नजर में हैं। इस सिस्टम से वित्तीय लेनदेन के स्टेटमेंट, टीडीएस, विदेशी मुद्रा में लेन-देन और आयात-निर्यात के आंकड़े पकड़ में आए हैं। विभाग ने कहा है कि ऐसे लोगों की पूरी जानकारी उनके पास है, जिन्होंने बड़े लेन-देन तो किए हैं, लेकिन रिटर्न दाखिल नहीं किए हैं। ऐसे लोगों को सलाह दी गई थी कि वो 21 दिन के भीतर अपना रिटर्न दाखिल करें या ऑनलाइन सिस्टम के जरिए अपना पक्ष रखे। संतोषजनक जवाब पाए जाने पर मामले को ऑनलाइन ही खत्म कर दिया जाएगा, लेकिन जवाब नहीं आने पर आयकर कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी। फरवरी के बीच तक आयकर विभाग की ये आखिरी डेडलाइन खत्म हो जाएगी। उसके बाद विभाग अपने स्तर पर कार्रवाई के लिए छापेमारी शुरू कर देगा।

You Might Also Like