कुंभ में आग, गोरखनाथ संप्रदाय के 2 टेंट जलकर खाक

कुंभ में आग, गोरखनाथ संप्रदाय के 2 टेंट जलकर खाक

कुंभ (Kumbh 2019) में एक बार फिर से आगजनी हुई है. मंगलवार को गोरखनाथ संप्रदाय के शिविर में आग लगी, जिसमें दो टेंट जलकर खाक हो गया. टेन्ट में रखे लाखों के सामान जलकर हुए खाक हो गए. मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने आग पर काबू पा लिया है. फिलहाल आग लगने की वजह का प्रता नहीं चल पाया है. यहां आपको बताते चलें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखनाथ संप्रदाय के महंत हैं.

इससे पहले 19 जनवरी को भी कुंभ में आगजनी की घटना हुई थी. ये हादसा कुंभ के सेक्टर 13 में हुआ था. इस हादसे में कुछ टेंट जलकर पूरी तरह खाक हो गए थे. घटना की जानकारी मिलते ही फायर ब्रिगेड की गाडियां मौके पर पहुंच गईं. फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने समय रहते इस आग पर काबू पा लिया. इससे पहले जब कुंभ के शुरू होने से एक दिन पहले भी यहां आग के कारण हादसा हुआ था. हालांकि उस आग को भी समय रहते बुझा दिया गया था.

बता दें कि कुंभ मेले की शुरुआत 15 जनवरी से होनी थी, लेकिन उससे पहले ही 14 जनवरी को दिगंबर अखाड़े के टेंट में आग लग गई थी. इस आग में कई टेंट आग की चपेट में आ गए थे. आग की चपेट में आने से टेंट में मौजूद सारा सामान जलकर खाक हो गया था.

कुम्भ मेले में अब तक 12.5 करोड़ श्रद्धालुओं के स्नान करने का दावा

विश्व के सबसे बड़े आध्यात्मिक मेले- कुम्भ मेले को लेकर मेला प्रशासन द्वारा जारी की गई एक विज्ञप्ति में दावा किया गया कि मकर संक्रांति से लेकर अब तक लगभग 12.5 करोड़ लोगों ने स्नान किया. मेला प्रशासन की विज्ञप्ति के मुताबिक, कुम्भ मेला 14 जनवरी, 2019 को मकर संक्रांति पर्व के साथ शुरू हुआ और तब से लगातार श्रद्धालुओं और साधु संतों का मेले में आगमन और स्नान जारी है. 14 जनवरी से दो फरवरी तक करीब 7.49 करोड़ लोगों ने स्नान किया.

मेला प्रशासन का दावा है कि तीन फरवरी से चार फरवरी शाम 5 बजे तक लगभग पांच करोड़ लोगों ने सोमवती मौनी अमावस्या पर गंगा और संगम स्नान किया. विज्ञप्ति के मुताबिक सोमवार को रात्रि तक स्नान करने का सिलसिला जारी है और कुम्भ पर्व पर अब तक लगभग 12.5 करोड़ लोगों ने स्नान कर लिया है.

You Might Also Like