एलडीसी भर्ती परीक्षा 2018: 6 महीनों से रिजल्ट का इंतजार कर रहे 7 लाख परीक्षार्थी

एलडीसी भर्ती परीक्षा 2018: 6 महीनों से रिजल्ट का इंतजार कर रहे 7 लाख परीक्षार्थी

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से 11 हजार 255 पदों पर कनिष्ठ सहायक संयुक्त सीधी भर्ती (एलडीसी) परीक्षा 2018 को हुए करीब 6 महीने का समय बीत चुका है लेकिन आज भी प्रदेश के करीब 7 लाख से ज्यादा परीक्षार्थी परिणाम का इंतजार रह रहे हैं. कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से भर्ती परीक्षा को लेकर 16 अप्रैल को विज्ञप्ति जारी की गई थी. वहीं 10 मई 2018 से लेकर 15 जून 2018 तक आवेदन प्रक्रिया चली थी.

परीक्षा को लेकर बोर्ड को करीब 13 लाख 70 हजार से ज्यादा आवेदन प्राप्त हुए थे. जिसके चलते बोर्ड ने परीक्षा को चार चरणों में आयोजित करवाने का फैसला लिया और इसी के चलते भर्ती परीक्षा चार चरणों में 12 अगस्त से 16 सितम्बर तक आयोजित की गई. लेकिन इन चार चरणों में आयोजित परीक्षा में करीब 7 लाख परीक्षार्थी ही शामिल हुए थे. परीक्षा के करीब 1 महीने के बाद बोर्ड की ओर से 12 नवम्बर को उत्तरकुंजी जारी कर 14 से 20 नवम्बर तक आपत्तियां भी प्राप्त कर ली गईं थी लेकिन लाखों परीक्षार्थियों को आज भी परीक्षा के परिणाम का इंतजार है.

5 महीने से भी ज्यादा का समय बीत जाने के बाद भी भर्ती परीक्षा का परिणाम जारी नहीं होने के चलते अब बेरोजगारों के सब्र का बांध भी टूटता जा रहा है और परिणाम जारी करने की मांग को लेकर हर रोज बड़ी संख्या में बेरोजगार बोर्ड कार्यालय पहुंच रहे हैं. वहीं राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड अध्यक्ष बीएल जाटावत हर बार दो हफ्तों में परिणाम जारी करने का आश्वासन दे रहे हैं. बीएल जाटावत का कहना है कि परीक्षार्थी ज्यादा होने की वजह से परिणाम को लेकर थोड़ा वक्त लग रहा है. साथ ही आरपीएससी पैटर्न और समानीकरण की वजह से भी परिणाम जारी करने में थोड़ा वक्त लग रहा है. इसके साथ ही बीएल जाटावत ने कहा की परिणाम जारी करने के लिए तेज गति से काम किया जा रहा है और संभवतः 10 मार्च तक परिणाम जारी कर दिया जाएगा.

एलडीसी भर्ती परीक्षा में बैठे परीक्षार्थियों को अब चिंता सताने लगी है कि भर्ती परीक्षा का परिणाम अब कहीं लोकसभा चुनाव में ना अटक जाए. अगर लोकसभा चुनाव में भर्ती परीक्षा का परिणाम अटकता है तो परीक्षार्थियों को चिंता है कि भर्ती में एक साल का समय लग सकता है. परीक्षार्थी सुनील विश्नोई का कहना है कि परीक्षा 4 चरणों में हुई और परीक्षा हुए 6 महीने बीत चुके हैं लेकिन बोर्ड की ओर से कोई संतोषप्रद जवाब नहीं मिल रहा है. वहीं परीक्षार्थी अंकित का कहना है कि परिणाम जारी नहीं होने की वजह से अन्य परीक्षाओं की तैयारियों पर भी खासा प्रभाव पड़ रहा है.

बहरहाल, पिछले 2 महीने से राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड 15 दिनों में परिणाम जारी करने की बात कह रहा है लेकिन 60 दिन बीत जाने के बाद परिणाम जारी होने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं. ऐसे में अब बोर्ड ने परिणाम 10 मार्च तक जारी करने का आश्वासन दिया है.

You Might Also Like