दिल्ली का 200 साल का अतीत ऑनलाइन, ई-अभिलेख वेबपोर्टल हुआ लांच

दिल्ली का 200 साल का अतीत ऑनलाइन, ई-अभिलेख वेबपोर्टल हुआ लांच

दिल्ली सरकार के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को ई-अभिलेख वेबपोर्टल की शुरुआत की। सरकार का दावा है कि इसके सहारे दिल्ली के इतिहास को पारदर्शी रूप से सबके सामने रखा जा सकेगा। पोर्टल पर 200 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड पहली बार ऑनलाइन होंगे।
दूसरी तरफ सरकार की योजना है कि आधुनिक तकनीक के जरिये डिजिटाइजेशन और माइक्रोफिल्मिंग का प्रयोग करके चार करोड़ से ज्यादा पुराने दस्तावेज का रिकॉर्ड पोर्टल पर अपलोड किया जाए। 2022 तक इस प्रोजेक्ट को पूरा कर लिया जाएगा। फिलहाल साठ लाख से ज्यादा दस्तावेज को ऑनलाइन कर दिया है।

सीडी देशमुख ऑडिटोरियम इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में आयोजित कार्यक्रम में मनीष सिसोदिया ने दिल्ली के पुरातत्व विभाग व प्रोजेक्ट से जुड़े अधिकारियों को बधाई दी। साथ ही कहा कि यह रिकॉर्ड दिल्ली का ऐतिहासिक दस्तावेज है। यह सीधा जनता से संबंधित है।

पोर्टल के सहारे अब सारी सूचना और ज्ञान का प्रसार किया जा सकेगा। यह एक प्रयास है, जो हमारे इतिहास को हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए संरक्षित करेगा।

दस्तावेज को देखने के लिए पहले लोगों को http://archives.delhi.gov.in/abhilekh पर अपना खाता बनाना होगा। इसके बाद पोर्टल पर लॉगइन करके दस्तावेज को खंगाला जा सकेगा।

You Might Also Like